नालंदा : राजपूत महासभा के नेता गौतम सिंह की दिनदहाड़े हत्या, आक्रोशित ने जमकर काटा बवाल, गांव पुलिस छावनी में तब्दील

728x90
Spread the news

मुर्शीद आलम
नालंदा ब्यूरो
बिहार

नालंदा/बिहार:जिलें में अपराधिक घटनाएं में तेजी के साथ वृद्धि हो रही है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के गृह प्रखंड हरनौत के बस्ती गांव में आज गोलियों की तड़तड़ाहट से पूरा गांव थर्रा उठा और राजपूत महासभा के प्रखंड अध्यक्ष व पूर्व मुखिया और पैक्स के अध्यक्ष गौतम सिंह को गोलियों से छलनी कर मौत के घाट उतार दिया।

 सूत्रों के अनुसार सुबह घर के बाहर अलाव ताप रहे थे इसी दौरान एक मोटरसाइकिल पर सवार दो बदमाश आए और ताबड़तोड़ गोलियों की बौछार कर दी, जिसमें गौतम सिंह को कई गोलियां लगी और मौके पर ही मौत हो गई। स्थानीय लोगों ने तत्काल हरनौत रेफरल अस्पताल में भर्ती कराया जहां डॉक्टरों ने देखते ही मौत होने की पुष्टि कर दी। इस पुष्टि से ग्रामीण भड़क उठे और डॉक्टरों के साथ मारपीट और बदसलूकी करने लगे जिससे डॉक्टर भी गुस्सा में आकर अस्पताल के सभी कार्यों को ठप कर दिया। ग्रामीणों ने शव को लेकर इलाज के लिए पटना के लिए निकल गए लेकिन रास्ते में ऐसा महसूस हुआ कि इनकी मृत्यु हो चुकी है। ग्रामीण वहां से लौट गए और हरनौत में शव को रखकर रांची- पटना सड़क को जाम कर दिया और बवाल काटा। जिसमें एक दर्जन से ज्यादा सरकारी और प्राइवेट बसों के शीशे तोड़े गए यात्रियों के साथ मारपीट की गई। पूरी तरह रणक्षेत्र में सड़क तब्दील रहा।

विज्ञापन

इस दौरान मीडिया कर्मियों के साथ मारपीट करते हुए उनके कैमरे और मोबाइल को भी छीन कर तोड़ दिए गए। ग्रामीण इतनी आक्रोशित थे की हरनौत थाना पुलिस घटनास्थल पर मौजूद रहने के बावजूद भी स्थिति को नहीं संभाल पाए। स्थिति बिगड़ते देख सूचना मिलते ही बिहार शरीफ अनुमंडल पदाधिकारी जनार्दन प्रसाद अग्रवाल, सदर डीएसपी इमरान प्रवेज और कई थानों की पुलिस मौके पर पहुंचकर स्थिति को काबू में किया। बताया जाता है कि मृतक गौतम सिंह अपने इलाके के दबंग व्यक्ति थे और इनके पूरे इलाके में काफी रुतबा था फिर भी इन की हत्या क्यों हुई किसने किया इस पूरी घटना की जांच में पुलिस जुटी हुई है। फिलहाल गौतम सिंह के चचेरे भाई को पुलिस गिरफ्तार कर लिया है और पूछताछ कर रही है।

विज्ञापन

विश्वसनीय सूत्रों से जानकारी के अनुसार चुनावी रंजिश में हत्या की बात सामने आ रही है क्योंकि कुछ समय पहले ही पैक्स चुनाव समाप्त हुए हैं और गौतम सिंह पैक्स अध्यक्ष भी थे। इस घटना के बाद गांव को में पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई है और हालात काबू में है।


Spread the news