हैप्पी न्यू इयर 2020 : जोश व उमंग के साथ नये साल का स्वागत

Spread the news

अमित कुमार अंशु
उप संपादक

          मधेपुरा/बिहार : मंगलवार की रात जिले में ठंढ के बावजूद नए साल के स्वागत में देर रात तक जश्न का माहौल रहा। युवाओं के जोश के आगे कंपकंपाती ठंढ भी कमजोर पड़ गई। देर रात तक चौक-चौराहों पर लोग जश्न मनाने के साथ-साथ एक-दूसरे को बधाई देते नजर आए।

नए वर्ष को खास बनाने के लिए लोगों ने अपने-अपने तरीके से स्वागत किया। युवाओं के समूह ने विभिन्न स्थानों पर नए साल के स्वागत के लिए पार्टियों का आयोजन किया। स्थानीय मोहल्ले में म्यूजिक व डांस पार्टी का दौर चला। वहीं कई युवाओं की टोली डीजे की धुन पर देर रात थिरकती रही। रात बारह बजते ही एक-दूसरे को बधाई देने के बाद लोग अपने परिजनों को फोन से बधाई दिए। सुबह होते ही लोग बाबा नगरी सिंहेश्वर की तरफ रवाना हो गये।

विज्ञापन

साफ मौसम ने भी लोगों का किया स्वागत : नव वर्ष के पहले दिन बुधवार को अहले सुबह सड़कों पर धुंध भरा रहा, बावजूद जिले के युवाओं एवं अन्य लोगों में नववर्ष को लेकर होने वाली खुशियों में कोई कमी नहीं दिखाई दी। धुंध वाले मौसम का भी आनंद लोग भी ले रहे थे। बुधवार को सुबह होते ही सड़कों पर से दूध भी साफ हो गई। जिसके बाद मौसम साफ रहने की वजह से लोगों के उत्साह में कमी नहीं रही। सभी एक दूसरे से मिलकर भी नव वर्ष की शुभकामनाएं दे रहे थे। युवाओं में नव वर्ष को लेकर जबरदस्त क्रेज देखा गया। लड़के हो या लड़कियां एक से बढ़कर एक डिजाइनर ड्रेस पहन सड़कों पर चहलकदमी कर रहे थे। नई पीढ़ी के बढ़ते क्रेज का अभिभावक भी सहयोग कर रहे थे। इस दौरान शहर में कही भी किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं मिली है।

पिकनिक स्थलों पर लगा रहा मेला : पिकनिक स्थलों पर जमकर भीड़ जुटी रही। प्रत्येक स्थान पर युवाओं की टोली म्यूजिक व डीजे की थाप पर झूमते नजर आए। इस अवसर पर बड़ों के साथ-साथ बच्चों ने भी जमकर आनंद उठाया। शहर के डॉ एपीजे कलाम चिल्ड्रेन पार्क में सुबह से लेकर देर शाम तक लोगों की भीड़ लगी रही।

रेस्तरां में उमड़ी भीड़ : खुशी के पल में लोगों ने विभिन्न व्यंजनों का स्वाद भी खूब चखा। रेस्टोरेंट में भी लोगों की भीड़ जमी रही, जिसको लेकर रेस्टोरेंट व होटल प्रबंधकों ने भी खूब तैयारी की थी। नव वर्ष की पूर्व संध्या पर ही होटल, ढाबे और रेस्तरां में पार्टी मनाने के लिए लोग जुटने लगे। वहीं कुछ लोगों ने खास जगहों पर नए साल के आगाज का इंतजाम किया। सभी जगहों पर देर रात तक डीजे की धुनों पर युवा थिरकते रहे। इस दौरान जमकर आतिशबाजी भी की गई।

हावी रहीं हाईटेक सेवाएं : कुछ साल पहले तक लोग एक दूसरे को ग्रीटिंग कार्ड देकर नए साल की शुभकामनाएं देते थे। लेकिन, अब ग्रीटिंग देने का चलन पुराना हो चुका है। नए साल के जश्न में हाईटेक युग की सेवाएं ही हावी रहीं। लोगों ने मोबाइल और इंटरनेट के माध्यम से नव वर्ष की शुभकामनाएं दीं।

विज्ञापन

सुरक्षा व्यवस्था रही पुख्ता : सुबह से ही पुलिस ने सुरक्षा व्यवस्था का कड़ाई से पालन किया। एनएच 107 पर सहरसा की सीमा से लगे सबैला में आने जाने वाले प्रत्येक वाहन की गहन तलाशी की गई। शहरी क्षेत्र में नव वर्ष मनाने के लिए जाने वालों की भी तलाशी ली गई। पुलिस के जवान गश्त करते रहे। नव वर्ष के जश्न के दौरान किसी भी तरह का हुड़दंग व अप्रिय घटना न हो इसके लिए पुलिस गश्त बढ़ाने के साथ ही पुख्ता इंतजाम किए गए थे।

विज्ञापन

हर उम्र में देखने को मिला नयापन : मध्य रात से ही नये वर्ष के स्वागत को यादगार बनाने में लोग लगे रहे। डीजे की धुन पर थिरकते युवा व बच्चे उत्साह को और रोमांचकारी बना रहे थे। एक-दूसरे को नव वर्ष की बधाइ देने से लेकर वर्ष के पहले दिन को खास करने की कोशिश ने सचमुच हर उम्र वर्ग के लोगों में एक नयापन देखने को मिला।

विज्ञापन

आतिशबाजी के साथ किया स्वागत : 12 बजते ही नये वर्ष की शुरुआत का एहसास आतिशबाजी के धमाकों ने किया। घड़ी की सूई ने ज्योंही रात के 12 बजे गांव से लेकर शहर तक हर तरफ पटाखे फूटने लगे। हैप्पी न्यू इयर के शोर से वातावरण गूंज उठा। कड़ाके की ठंड के बाद भी मध्य रात में लोगों का नये साल के स्वागत के लिए उत्साह चरम पर था। उस वक्त ही लोगों ने एक-दूसरे को मुबारकबाद दी तथा पूरे वर्ष की सलामती की दुआएं मांगी।

बधाई संदेशों की रही धूम : नये वर्ष के स्वागत में एक-दूसरे को दिये जाने वाले बधाई संदेश का अंदाज भी निराला रहा. वाह्ट‍सएप, फेसबुक, ट‍्यूटर, हाइक समेत सोशल मीडिया के हर माध्यमों का लोगों ने बधाई संदेश देने के लिए भरपुर उपयोग किया। संदेशों में शब्दों का समावेश लोगों के दिलों को छू जानेवाला रहा। इसके अलावा ग्रीटिंग कार्ड देकर भी लोगों ने शुभकामना दी। इसमें नन्हें बच्चों का विशेष उत्साह लोगों में देखने का मिली।

चिकन व मटन की बढ़ी मांग : जिला मुख्यालय सहित विभिन्न प्रखंडों में बुधवार को मांस मछली की दुकानों पर भीड़ देखी गयी. इस दौरान लोग मांस व मछली खरीद रहे थे। नव वर्ष से एक दिन पूर्व मंगलवार होने के कारण लोग पूर्व में मांस मछली खरीद कर घरों में नहीं रख पाए थे। इसलिए बुधवार को मांस मछली की दुकानों पर अत्याधिक भीड़ देखी गई। नये साल के अवसर पर 2 दिन पूर्व से ही बाजार में मटन व चिकेन के दामों में अप्रत्याशित वृद्धि होने का अनुमान लगाया जा रहा है।


Spread the news
advertise