सीतामढ़ी : असंवैधानिक और काला कानून को किसी भी कीमत में लागू नहीं होने दिया जाएगा- कमालुद्दीन राजा

Spread the news

प्रेस विज्ञप्ति : 

सीतामढ़ी/बिहार : सीतामढ़ी नागरिकता कानून के खिलाफ बाजपट्टी विधानसभा युवा कांग्रेस अध्यक्ष कमालुद्दीन रजा के नेतृत्व में पोखरैरा, बनौल, पंचायत में जनसंपर्क अभियान चलाया गया। जिसमें सुप्रीम कोर्ट को ईमेल व पोस्ट ऑफिस के माध्यम से पत्र लिखकर CAA-NRC जैसे असंवैधानिक कानून को वापस लेने की मांग पत्र के माध्यम से की गई। तमाम समाज सेवी व बुद्धि जीवियों ने कहा चाहे कुछ हो जाए हम संविधान विरोधी कानून को नहीं मानेंगे।

विज्ञापन

          वहीं भाजपट्टी विधानसभा युवा कांग्रेस अध्यक्ष श्री कमालुद्दीन रजा ने कहा ये कानून केंद्र की भाजपा और बिहार की नीतीश सरकार लागू कर देश को बांटने और संविधान को खत्म करने का काम कर रही है। भाजपा सरकार अपने नाकामी को छुपाने के लिए इस कानून को हिंदू मुस्लिम बता कर देश की जनता को गुमराह कर रही है। ये लड़ाई संविधान बचाने की लड़ाई है। आज देश में चारों तरफ  महंगाई से लोग परिशान है। युवाओं को रोजगार नहीं मिल रहा। महिला उत्पीड़न रुकने का नाम नहीं, बिहार समेत पूरे देश में आए दिन लुट खसोट,व हत्या दिन दहाड़े हो रही है। मगर मोदी, शाह, को इसकी कोई चिंता नहीं ।

विज्ञापन

हम बापू के विचार, व संविधान निर्माता बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर, मौलाना अबुल कलाम आजाद, भगत सिंह, के कुर्बानी को खत्म नहीं होने देंगे। चाहे इसके लिए मुझे फांसी की सजा मिले, या तानाशाह सरकार के इशारे पर पुलिस की गोली खानी पड़ेगी। मगर हम देशवासी सावरकर व गोडसे के विचारधारा वाला देश नहीं बनने देंगे। और ना ही संविधान का उलंघन बर्दाश्त करेंगे। ये देश सबका है। एनसीपी प्रदेश सचिव शकील अहमद ने कहा ये सरकार जनविरोधी सरकार है। जनसंपर्क अभियान पोखरैरा बलासाथ , बनौल पंचायत के बलुवाहा में लोगों से जनसंपर्क कर 200 से ज्यादा लोगों के नाम से सुप्रीम कोर्ट को पत्र लिखा। कमालुद्दीन रजा युवा कांग्रेस अध्यक्ष ने बताया। ये अभियान लगातार जारी रहेगा। 15 हजार पत्र सुप्रीम कोर्ट को स्पीड पोस्ट से भेजने का काम करूंगा।

ये अभियान बोखरा प्रखंड, नानपुर समेत पूरे बाजपट्टी विधान सभा में 19 जनवरी तक युवा कांग्रेस की टीम चलाएगी। मौके पर अफजल रजा, तौसीफ रजा, सोगार्त राम, संभू कुमार, लाडले , वजहुल , इस्लाम इस्राइल, मुमताज़ अली  समेत भारी संख्या में लोग मौजूद थे।


Spread the news
advertise