मधेपुरा : किरण पब्लिक स्कूल, में आयोजित सात दिवसीय स्काउट एंड गाइड का द्वितीय दीक्षांत समारोह संपन्न  

Spread the news

अमन कुमार
संवाददाता, सदर
मधेपुरा

मधेपुरा/बिहार : स्काउट एंड गाइड का द्वितीय प्रशिक्षण समारोह सदर प्रखंड के जेपी नगर, पिपरपत्ता स्थित किरण पब्लिक स्कूल के प्रांगण में संपन्न हुआ। समारोह का उद्घाटन बीएनएमयू कुलसचिव डा कपिलदेव प्रसाद यादव, बीएनएमयू के पूर्व परीक्षा नियंत्रक सह साहित्यकार डा भूपेंद्र नारायण मधेपुरी, विद्यालय के निदेशक अमन प्रकाश सहित अन्य अतिथियों के द्वारा सामूहिक रूप से दीप प्रज्वलित कर किया गया। 

इस अवसर पर कुलसचिव डा कपिलदेव प्रसाद यादव ने छात्र छात्राओं को दीक्षा दिलवाया एवं उन्होंने कहा कि वे यहां के बच्चों के अनुशासन से काफी प्रभावित हुए एवं विद्यालय के उन्नति की कामना की। समारोह में डा भूपेंद्र नारायण मधेपुरी ने छात्र-छात्राओं को संबोधित करते हुए अपनी शुभकामनाएं दी एवं कहा कि विद्यालय का नाम ऊंचा करें। अपने उद्घाटन संबोधन में विद्यालय के निदेशक अमन प्रकाश ने कहा कि स्काउट गाइड भारत सहित दुनिया के अधिकांश देशों में समाज में नैतिकवान नागरिक बनाने को तत्पर है। इस प्रकार के शिविर से बच्चों के अंदर चतुर्दिक विकास के रास्ते खुलते हैं। उन्होंने बच्चों से अपील करते हुए कहा कि शिविर से मिले ज्ञान व अनुभव से अन्य लोगों भी वो लाभान्वित करें। उन्होंने बताया कि स्काउट और गाइड विद्यालय के एकेडमिक कैलेंडर का हिस्सा है, इसे आने वाले समय में और व्यापक स्तर पर आयोजित किया जाएगा।

विद्यालय के प्राचार्य मो आकिब ने अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि सात दिवसीय स्काउट गाइड का प्रशिक्षण जिला आयुक्त जयकृष्ण यादव की देखरेख में संपन्न हुआ। उन्होंने बताया कि छात्र-छात्राओं का सर्वांगीण विकास हो, इसके लिए विद्यालय प्रशासन हमेशा तत्पर है। हमारा लक्ष्य है कि हमारे छात्र-छात्राएं भी राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित हो एवं राष्ट्रीय स्तर तक अपनी पहचान बनाए। विद्यालय में आए हुए अतिथियों का विद्यालय प्राचार्य ने शाल, बुके एवं स्मृति चिन्ह प्रदान कर सम्मानित किया।

इस अवसर पर शिविर में भाग लिए सभी छात्र छात्राओं को स्काउट एंड गाइड के स्मृति चिन्ह एवं प्रमाण पत्र से सम्मानित किया गया. छात्र-छात्राओं ने भी अतिथियों को कई तरह के प्रशिक्षण में सीखें हुए हुनर दिखाएं. कार्यक्रम में विद्यालय के सभी शिक्षक एवं कर्मचारीगण मौजूद रहे।


Spread the news
advertise