सुपौल : नागरिकता संसोधन के बिल (CAB) के खिलाफ आक्रोश मार्च

(फोटो –टीआरटी)
728x90
Spread the news

रियाज खान
संवाददाता
भीमपुर, सुपौल

छातापुर/सुपौल/बिहार : नागरिकता संसोधन के बिल (CAB) के खिलाफ बुधवार को छातापुर प्रखंड के माधोपुर पंचायत के महद्दीपुर बाजार स्थित जामा मस्जिद चौक से लालाजी चौक तक युवाओं द्वारा आक्रोश मार्च निकालकर विरोध जाताया ।
इस आक्रोश मार्च जमीयत उलमा ए हिन्द का भी समर्थन रहा । खादिम ए मजलिस खलीकुल्लाह अंसारी के नेतृत्व में निकली आक्रोश मार्च लालजी चौक पहुंचकर एसएच 91 पर गृहमंत्री अमित शाह का पुतला दहन किया । 

आक्रोश मार्च में शामिल लोगों ने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए मोदी सरकार हाय हाय, अमित शाह हाय हाय, हिटलर शाही नहीं चलेगी, काला बिल वापस लो आदि नारे लगा रहे थे । खादिम ए मजलिस श्री अंसारी ने कहा कि एनआरसी व सीएबी लाकर सरकार देश मे अमन चैन और गंगा जमुनी तहजीब को खत्म करने की साजिश कर रही है । कहा कि देश के मुसलमानों को टारगेट कर परेशान करने की कोशिश की जा रही । जबकि भारत एक धर्मनिरपेक्ष देश है, जहां सभी धर्म जाती व समुदाय के लोग साथ मिलकर रहते है, भाजपा सरकार देश मे विकास के समाज मे आपसी नफरत फैलाने की कोशिश कर रही है । लोगों का समस्याओ से ध्यान हटाने के लिए ये काला बिल लागू किया गया है । आक्रोशित लोगों ने कहा कि सरकार अगर ये काला बिल वापस नहीं लेगी तो हमलोग उग्र आंदोलन के लिए बाध्य होंगे ।

मौके पर राजद अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के प्रखंड अध्यक्ष सद्दाम हुसैन, मो जफरुल होदा, मो रेहान फजल, मो रजाउल्लाह अंसारी, मो साबिर हुसैन, रहमतुल्लाह रहमानी, इंतखाब खान, अकील ओबैसी, तौसीफ चांद, आफाक खान, मो जियाउल, मो गयास, मो इजहार आलम, आदिल खान देवबंदी, अल्ताफ मंजर, मो सद्दाम खान, मो पिंकू, रजिम राजा, हाफिज इस्माइल, हाफिज आफाक कासमी, बाला जी, मो मिठ्ठू सहित दर्जनों लोग शामिल थे ।


Spread the news