मुजफ्फरपुर : जिलाधिकारी ने छठ घाटों का लिया जायजा  

728x90
Spread the news

अंजुम शहाब
ब्यूरो
मुजफ्फरपुर

मुजफ्फरपुर/बिहार : आस्था का  महापर्व छठ के अवसर पर जिले में सुरक्षा एवं विधि- व्यवस्था को लेकर जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन अलर्ट है। स्वयं जिलाधिकारी आलोक रंजन घोष, वरीय पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार, नगर आयुक्त मनेश कुमार मीणा,अनुमंडल पदाधिकारी पूर्वी कुंदन कुमार एवं पश्चिमी अनिल कुमार दास, अपर समाहर्ता ,आपदा अतुल कुमार वर्मा तथा अन्य वरीय प्रशासनिक और पुलिस पदाधिकारी के द्वारा नियमित रूप से घाटों का निरीक्षण किया जा रहा है और हालात का जायजा लिया जा रहा है। साथ ही संबंधित पदाधिकारियो को आवश्यक निर्देश भी दिए जा रहे हैं।

जिलाधिकारी ने कहा है कि शांति व्यवस्था और विधि -व्यवस्था संधारण को लेकर किसी भी तरह की कोताही और लापरवाही बर्दाश्त नही की जाएगी । कहा कि हर स्तर पर सभी आवश्यक तैयारियां मुकम्मल की जा रही है और इस संबंध में आवश्यक निर्देश भी दिए गए हैं। वहीँ पर्व के अवसर पर अफवाह फैलाने वाले पर कड़ी नजर रखी जा रही है। इस महापर्व के अवसर पर विधि-व्यवस्था संधारण के दृष्टिकोण से 01 नवम्बर के अपराहनं दो बजे से 03 नवम्बर को पूर्वाहन 10 बजके तक नाव परिचालन पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। दोनो अनुमंडल पदाधिकारी को निर्देश दिया गया है कि नदियों, तालाबो और घाटों पर पर्याप्त नावों, प्रशिक्षित नाविक एवं गोताखोरों की तैनाती के साथ नावों पर लाइफ जैकेट एवं घाटों पर महाजाल की व्यवस्था करना सुनिश्चित करेंगे। प्रशिक्षित नाविक और गोताखोर सरकारी नावों पर गश्ती करेंगे। मोटरवोट से भी पेट्रोलिंग की जाएगी। घाटों पर पटाखों की बिक्री या पटाखा छोड़ने पर प्रतिबंध लगाया गया है। मेले या भीड़-भाड़ वाले स्थलों पर कोई भी सिलेंडर या विस्फोटक रखने पर भी प्रतिबंध होगा। नदियों में मोटर वोट से पेट्रोलिंग के निर्देश दिए गए है। ग्रामीण क्षेत्रो में सभी घाटों पर वॉच टॉवर एवं बैरिकेडिंग की व्यवस्था बीडीओ/सीओ/थानाध्यक्ष करेंगे जबकिं शहरी क्षेत्र में बैरिकेडिंग करने का निर्देश नगर आयुक्त को जबकिं वॉच टॉवर की व्यवस्था भवन प्रमंडल के द्वारा सुनिश्चित की जानी है। घाटों पर स्वास्थ्य शिविर स्वास्थ्य विभाग द्वारा लगाए जाएंगे।

टीआरटी डेस्क

स आशय का निर्देश डीएम द्वारा सीएस को दिया गया है साथ ही निर्देश दिया गया है कि सभी आवश्यक दवाइया/उपकरण एवं एम्बुलेंस की व्यवस्था सुनिश्चित रखे। सभी पी एच सी में  पर्याप्त संख्या में डॉक्टर की उपस्थिति अनिवार्य होगी। छेड़-छाड़ करने वाले और मनचलों पर प्रशासन की पैनी नजर रहेगी। अग्निशमन पदाधिकारी को भी पूरी तैयारी के साथ अलर्ट रहने के निर्देश दिए गए है। अनुमंडल पदाधिकारी पूर्वी और पश्चिमी अपने-अपने क्षेत्र के विधि -व्यवस्था के सामान्य प्रभार में रहेंगे। स्थानीय पीआईआर में जिला नियंत्रण कक्ष  बनाया गया है जो 01 नवम्बर के अपराह्न 02 बजे से 3 नवम्बर के पूर्वाहन 10 बजे तक कार्यरत रहेगा। नियंत्रण कक्ष का दूरभाष no 0621-2212377 एवं 2216275 है। वही विशेष परिस्थिति से निपटने के लिए  अखाड़ा घाट, आश्रम घाट, सिकंदरपुर सीढ़ी घाट, साहू पोखर, रामदयालु पोखर, पड़ाव पोखर, करबला घाट, दादर घाट, एवं लकड़ी ढाही घाट में मिनी नियंत्रण कक्ष बनाये गए है। छठ महापर्व को लेकर शांति एवं विधि -व्यवस्था संधारण हेतु संवेदनशील और सभी महत्वपूर्ण स्थलों पर थानावार जिले में कुल 40 स्टैटिक दंडाधिकारी, 95 सूचना संग्रहण तथा समन्वय स्थापित करने हेतु प्रतिनियुक्त पदाधिकारी, तथा 291 पुलिस पदाधिकारी तथा पर्याप्त संख्या में पुलिस बल की प्रतिनियुक्ति की गई है। सभी पदाधिकारियो की छुट्टियां रद्द कर दी गई है।


Spread the news