मधेपुरा : दिपावली की रात महिला वार्ड पंच की गोली मारकर हत्या

Spread the news

आकाश दीप
संवाददाता
उदाकिशुनगंज, मधेपुरा

उदाकिशुनगंज/मधेपुरा/बिहार : उदाकिशुनगंज थाना अंतर्गत बुधामा ओपी क्षेत्र के खाड़ा स्थित सुखासनी ग्राम में दीपावली की देर रात 45 वर्षीय विधवा अधेड़ महिला संजू देवी को अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी है। महिला खाड़ा पंचायत के वार्ड संख्या 12 के वार्ड पंच पद से वर्ष 2016 के पंचायत चुनाव में निर्विरोध निर्वाचित हुई थी। दैनिक जीवन में खेती बारी कर अपने सपरिवार का गुजर बसर करती थी।

तत्काल हत्या के मूल कारणों का पता नहीं चल पाया है। मृतका वार्ड पंच संजू देवी का 28 वर्षीय एकलौता पुत्र बिपीन मेहता ने बताया कि वह बगल के सीमावर्ती गांव कोपा से देर रात करीब 12:00 बजे काली पुजा के कार्यक्रम देखकर अपने घर लौटा ही था कि तभी उसने मां के बगल में सोये अपने तीन वर्षीय पुत्र की रोने की आवाज सुनकर पहुंचा तो देखा उसकी मां का पुरा शरीर खून से लथपथ है। उन्हें सर में गोली लगी है। तथा बालक के आंख के पास गोली के बारूद के निशान भी थे।

विज्ञापन

पुत्र के मुताबिक़ दृश्य को देख कर उसने शोर मचाया जिसके बाद आसपास के लोग जुट गए। मृतक संजू की दो पुत्री भी है। दोनों पुत्री की शादी हो चुकी है।

घटना की सूचना ग्रामीणों ने बुधामा ओपी और उदाकिशुनगंज थाना को सूचित किया। मौके पर थानाध्यक्ष शशिभूषण सिंह व बुधामा ओपी प्रभारी रामनंदन यादव, दारोगा संतलाल सिंह, सुनील भगत सहित बिहार सैन्य पुलिस (बीएमपी) के जवान के साथ मौके वारदात पर पहुंचकर शव को कब्जे में लिया।  जिसके बाद लाश का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए मधेपुरा सदर अस्पताल भेज दिया गया।

टीआरटी डेस्क

इधर वार्ड पंच संजू देवी की हत्या की खबर सुनते ही स्थानीय मुखिया ध्रुव कुमार ठाकुर, सरपंच प्रतिनिधि विनोद मंडल, पंसस प्रतिनिधि सुबोध रजक, पूर्व पंसस जितेन्द्र पंडित, समाजसेवी मंजय सिंह, वार्ड सदस्य गुंजन देवी, पहाड़ी ऋषिदेव सहित अन्य ने उनके घर पहुंचकर शोक संवेदना प्रकट किया।

फिलहाल हत्या के मूल कारणों का पता  लगाने में पुलिस जुट गई है कि आखिर किन कारणों से विधवा अधेड़ महिला वार्ड पंच संजू देवी की हत्या की गई है। इधर पुलिस ने मृतका के मोबाइल काॅल डिटेल्स की जांच की बात कही। घटना के बाद इलाके भर में एक बार फिर से दहशत का माहौल कायम हो गया है, स्थानीय लोगों ने इलाकेभर में पुलिस गश्ती तेज करने की मांग की है। क्योंकि बीते चार साल में लगातार चार हत्याएं हो चुकी है।

इधर थानाध्यक्ष शशिभूषण सिंह ने बताया कि पुलिस द्वारा घटनास्थल से साक्ष्य के तौर पर खोखा बरामद किया गया है, जो किसी खास अपराधियों द्वारा घटना को अंजाम दिये जाने की तरफ इशारा कर रहा है।


Spread the news
advertise