सीतामढ़ी : मुख्यमंत्री ने सीतामढ़ी के रुन्नीसैदपुर बाढ़ राहत शिविर का लिया जायजा

Spread the news

एम. के. अख्तर
ब्यूरो, सीतामढ़ी

सीतामढ़ी/बिहार : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सीतामढ़ी के बाढग़्रस्त क्षेत्र रुन्नीसैदपुर टॉल प्लाजा स्थित बाढ़ राहत केंद्र का जायजा लिया। उन्होंने राहत केंद्र स्थित सामुदायिक रसोई का निरीक्षण किया। निर्देश दिया कि जहाँ सात सौ लोग से ज्यादा हो तो वहाँ दो रसोई चलावे। मुख्यमंत्री ने खाना बनाने का स्थान को भी देखा और साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देने का निर्देश दिया।

राहत केंद्र स्थित आंगनवाड़ी केंद्र का भी मुख्यमंत्री द्वारा निरीक्षण किया गया। उन्होंने आंगनबाड़ी केंद्र स्थित बच्चो से भी बातचीत की। स्वास्थय शिविर के निरीक्षण के क्रम में उपलब्ध दवाओं एवं स्वास्थ्य सुविधाओं का भी जायजा लिया। बाद में वे राहत शिविर में रह रहे कई बाढ़ पीड़ितों से मिले एवं उनकी समस्याओं को जाना।

गौरतलब हो कि रुन्नीसैदपुर टॉल प्लाजा स्थित बाढ़ राहत केंद्र में 825 लोग पंजीकृत है। राहत केंद्र स्थित आंगनवाड़ी केंद्र में 69 बच्चे है। 7 दिव्यांग भी है। उन्होंने डीएम को निर्देश दिया कि शत प्रतिशत बाढ़ पीड़ितों को राहत राशि मिले, इसे हर हाल में सुनिश्चित करे। उन्होंने डीएम सहित वरीय पदाधिकारियो से जिले में चलाए जा रहे राहत कार्यो की विस्तृत जानकारी लिया। उन्होंने अब तक जिले में चलाए जा रहे राहत कार्यो पर संतोष व्यक्त करते हुए निर्देश दिया कि आवश्यकता पड़ने पर एयर ड्रॉप के द्वारा तीव्र गति से सुदूर एवम दुर्गम स्थानो पर राहत सामग्री उपलब्ध करवाए।

डीएम ने बताया कि जिले के सभी 17 प्रखण्ड बाढ़ से प्रभावित हो चुके है।187 पंचायत पूर्ण रूप से तथा 3 पंचायत आंशिक रूप से प्रभावित है। प्रभावित गाँव की संख्या 591 है। कुल 1727500 जनसंख्या प्रभावित है। 21500 पशु प्रभावित है। 1लाख 40 हजार हेक्टेयर क्षेत्रफल प्रभावित है। मृतकों की संख्या 27 है, जिसमे 26 के निकटतम परिजनों को चार-चार लाख रुपये राहत राशि के रूप में प्रदान की गई है। जिले में 215 स्थानो पर सामुदायिक रसोई की व्यवस्था है, जिसमे प्रतिदिन सुबह-शाम भोजन करने वाले कि संख्या 82000 है। प्रभावित परिवारों को अबतक 16000 फ़ूड पैकेट एवं 23800 पॉलीथिन शीटस का वितरण विभिन्न प्रखंडों में किया गया है। बाढ़ से उत्पन्न होने वाली बीमारियों के रोकथाम हेतू बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में कुल 371 चिकित्सा शिविर एवं 3 बोट एम्बुलेंस की व्यवस्था की गई है। बाढ़ राहत शिविर में अबतक कुल 33,876 हैलोजन टेबलेट वितरित किये गए है। जिन स्थानों में पानी घट रहा है, वहाँ चुना तथा ब्लीचिंग पाउडर का छिड़काव किया जा रहा है। अबतक जिले के 77457 बाढ़ से प्रभावित परिवारों के बीच कुल 46,47,42,000 रुपया डीबीटी के माध्यम से वितरित किया गया है। इसके अतिरिक्त 1,19,516 प्रभावित  परिवारों का भुगतान   हेतू प्रक्रिया अंतिम चरण में है।

इस अवसर पर सीतामढ़ी सांसद सुनील कुमार पिंटू, विधान सभा सदस्या रंजू गीता, गायत्री देवी, विधान परिषद सदस्य देवेश चंद्र ठाकुर, रामेश्वर महतो, जिला परिषद अध्यक्षा उमा देवी, पूर्व विधायक खलील अंसारी, जय नंदन प्रसाद यादव, मुख्य सचिव, बिहार सरकार दीपक प्रसाद, प्रधान सचिव, आपदा प्रत्यय अमृत, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव,चंचल कुमार, आईजी गणेश कुमार, प्रमंडलीय आयुक्त तिरहुत, नर्मदेश्वर लाल, डीआईजी रविन्द्र कुमार, डीएम डॉ रणजीत कुमार सिंह, एसपी अनिल कुमार सहित कई वरीय पदाधिकारी एवं जनप्रतिनिधि आदि उपस्थित थे।


Spread the news
advertise