मधेपुरा : रमजान के पहले जुमे पर हजारों रोजेदारों ने अदा की जुमे की नमाज, मुल्क में अमन-चैन और भाई चारगी की मांगी दुआ

728x90
Spread the news

मुजाहिद आलम
संवाददाता
कुमारखंड, मधेपुरा

कुमारखंड/मधेपुरा/बिहार : प्रखंड क्षेत्र विभिन्न पंचायत में मुस्लिम समुदाय के हजारों लोगो ने रमजान माह के पहले जुमा पर पुरे अकीदे और एहतेराम के साथ जुमे की नमाज अदा की। जुमा की रौनक सुबह से ही मुस्लिम मुहल्ला में नजर आने लगी, सुबह से ही जुमे की नमाज की तैयारी में सभी जुट गए और साफ़ सुथरे लिबास पहन, खुशबु लगाकर मस्जिद की जानिब निकल पड़े  ।

मुस्लिम समुदाय के लोगो ने मस्जिद को साफ सफाई किया। इस दौरान प्रखंड के सभी छोटी, बड़ी मस्जिदों जैसे टिकुलिया जमा मस्जिद, बिसनपुर बाजार, भतनी,पोखरिया,पुरैनी, रामनगर महेश, मगरवारा, रौता, चैनपुर रहटा सहित सभी मस्जिदों में अकीदतमंदों ने एहतराम के साथ जुमा की नजम अदा कर  बारगाहे इलाही में हाथ उठाकर मुल्क में अमन-चैन और भाईचारे की दुआ मांगी। टिकुलिया जमा मस्जिद के इमाम कारी खुर्शिद आलम ने माहे रमजान की फजीलत और बरकात ब्यान करते हुए कहा कि रमजान का महीना  मुसलमान के लिए गुनाहों से बचने का सबसे बेहतरीन महीना  है। अल्लाह इस माह में जन्नत के दरवाजे खोल देते है। माहे रमजान में अगर कोई ईमान वाला दिल से अपने गुनाहों से तौबा कर लेता है तो अल्लाह उसके गुनाह को माफ कर देते है। उन्होंने कहा कि रमजान के महीने में खाने,पीने का खास ख्याल रखा जाता है पूरे महीने अकीदत के साथ नमाज अदा करना कुरआन की तिलावत करना ये सारी बातों का ख्याल रखा जाता है। इस माह में रोजा को तीन असरे में बाटा गया है पहला रहमत,दूसरा मगफिरत,तीसरा जहन्नम के आग से छुटकारा पाना है । 


Spread the news