वीमेन ओरिएंटेड फिल्‍म ‘शक्ति’ को लेकर उत्‍साहित हैं अभिनेता मनमोहन मिश्रा

728x90
Spread the news

अनूप ना. सिंह
स्थानीय संपादक

पूत को पांव पालने में ही दिखने ही लगते हैं। कुछ ऐसा ही इन दिनों देखने को मिल रहा है भोजपुरी फिल्‍म इंडस्‍ट्री के न्‍यू कमर अभिनेता मनमोहन मिश्रा के साथ। वे जल्‍द ही भोजपुरिया हॉट केक अंजना सिंह के साथ निर्देशक रवि सिन्‍हा की वीमेन ओरिएंटेड भोजपुरी फिल्‍म ‘शक्ति’ में नजर आने वाले हैं। इसको लेकर वे काफी उत्‍साहित हैं। साथ ही उनकी कई और फिल्‍में फ्लोर पर है। ऐसे में आज हमने उनसे उनकी फिल्‍मों के बारे में बात की।

सवाल : कैसी है आपकी फिल्‍म ‘शक्ति’ और इसमें आपका किरदार क्‍या है ?

मनमोहन मिश्रा : भोजपुरी फिल्‍म ‘शक्ति’ बेहद अलग तरह की फिल्‍म है। रवि सिन्‍हा जी इस फिल्‍म के निर्देशक हैं। फिल्‍म एक महिला पर आधारित है। इसमें मेरा किरदार एक वकील का है। मैं इस फिल्‍म को लेकर काफी एक्‍साइटेड हूं, क्‍योंकि इसमें अभिनय के लेवल पर मेरे लिए काफी अच्छा स्‍कोप था। फिल्‍म में मेरे साथ लीड रोल में अंजना सिंह हैं।

सवाल : अंजना सिंह के साथ फिल्‍म में काम करने का अनुभव कैसा रहा ?

मनमोहन मिश्रा : ‘शक्ति’ से पहले भी मैंने दो फिल्‍मों में अंजना सिंह के साथ काम किया है। भोजपुरी फिल्‍म ‘टाइगर अभी जिंदा है’ और ‘हथकड़ी – 2’ में भी उनके साथ काम करने का मौका मिला। ‘टाइगर अभी जिंदा है’ जल्‍द ही रिलीज होने वाली है। अंजना सिंह बेहद अच्‍छी और सपोर्टिव को स्‍टार हैं। सेट पर जब कभी मुझे किसी सीन में परेशानी होती थी, तब कई बार उन्‍होंने मुझे सपोर्ट किया और सिखाया भी।

सवाल : अभिनय का ख्‍याल कब आया और रीवा से कैसे शुरू हुई सिनेमाई पर्दे का सफर है ?

मनमोहन मिश्रा : मैं मध्‍यप्रदेश के रीवा से आता हूं और बचपन से एक्‍टर बनना चाहता था। इसके लिए मैंने काफी स्‍ट्र्रगल भी किया। मुंबई में भी काफी मेहनत की। तब जाकर मुझे पहली बार रवि सिन्‍हा ने अपनी फिल्‍म ‘दुश्‍मन सरहद पार के’ में ब्रेक दिया था। इसमें मेरा किरदार ज्‍यादा नहीं था, लेकिन रवि सिन्‍हा ने मुझे नोटिस किया और मैं सुपर हिट फिल्‍म ‘मुन्‍ना मवाली’ में भी चुना गया। इसमें मेरी भूमिका को खूब सराहना मिली और रवि सिन्‍हा ने मुझे ‘टाइगर अभी जिंदा है’ ऑफर किया।

सवाल : ‘शक्ति’, ‘टाइगर अभी जिंदा है’ और ‘हथकड़ी -2’ में कौन सी फिल्‍म आपको सबसे अधिक पसंद है?

मनमोहन मिश्रा : यूं तो तीनों ही फिल्‍में मेरे लिए बेहद खास हैं, लेकिन ‘शक्ति’ में मुझे खुद को प्रूफ करने का अधिक मौका मिला। वहीं मैं आपको फिल्‍म ‘हथकड़ी -2’ के बारे में बताना चाहूंगा कि यह फिल्‍म मेरे लिए काफी चाइलेंजिग था। क्‍योंकि इस फिल्‍म का पहला पार्ट बड़ी हिट रहा है और इसमें दिनेशलाल यादव निरहुआ और खेसारीलाल यादव नजर आये थे। इसमें मेरे साथ प्रमोद प्रेमी हैं। इसलिए मैंने कोशिश की है कि अपने अभिनय से उनके लेवल को मैच कर सकूं। इस फिल्‍म में अंजना सिंह के साथ मैं लीड रोल में हूं।

सवाल : आपने फिल्‍मों की शूटिंग कहां – कहां की और रवि सिन्‍हा के साथ फिल्‍म करने का अनुभव कैसा रहा है ?

मनमोहन मिश्रा : रवि सिन्‍हा सही मायनों में मेरे गॉड फादर हैं। अच्‍छे निर्देशक हैं। समय के पाबंद हैं और उन्‍होंने मुझे पर भरोसा किया। यह मेरी खुशनसीबी है। जहां तक रही फिल्‍म के शूटिंग की बात तो ‘टाइगर अभी जिंदा है’ की शूटिंग मैंने दुबई, मुंबई और गुजरात में की। तो हथकड़ी – 2 और शक्ति की शूटिंग हमने भोपाल और मंडीदीप में की, जहां स्‍थानीय लोगों का सपोर्ट भी हमें खूब मिला।

सवाल : अंत में, आप अपनी फिल्‍म के लिए दर्शकों को क्‍या कहना चाहेंगे ?

मनमोहन मिश्रा : मैं दर्शकों से बस इतना कहना चाहूंगा कि अभी तक आपने मुझे खूब प्‍यार दिया है। आगे भी आप हमें अपना प्‍यार दें। ‘टाइगर अभी जिंदा है’ जल्‍द ही रिलीज होने वाली है। उसे सिनेमाघरों में जाकर जरूर देखें। साथ ही शक्ति और हथकड़ी -2 को भी अपना प्‍यार दें और मेरी अदाकारी कैसी लगी, एक क्रिटिक की तरह जरूर शेयर करें।


Spread the news