मधेपुरा : निर्मल यादव हत्याकांड में एक को भेजा गया जेल, हत्या के कारण का अबतक नही हुआ खुलासा, पुलिस की तहकीकात जारी

728x90
Spread the news

मिथिलेश कुमार
संवाददाता
मुरलीगंज, मधेपुरा

मुरलीगंज/मधेपुरा/बिहार : मुरलीगंज प्रखंड के रघुनाथपुर पंचायत, भेलाही निवासी निर्मल यादव हत्या मामले में नामजद 11 अभियुक्तों में से पुलिस ने एक को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।

ज्ञात हो कि बुधवार की सुबह भेलाही के पास बैंगा नदी से निर्मल यादव का शव बरामद किया गया था, लेकिन अभी तक पुलिस हत्या के कारण का पता लगाने में नाकाम साबित हो रही है। हलांकि पुलिस कई बिन्दुओ पर जांच कर रही है। हत्या के मामले में मृतक निर्मल यादव के चचेरा भतीजा रमण कुमार ने 11 लोगों को नामजद कर प्राथमिक दर्ज करायी है। जिसमें पुलिस ने बुधवार को हीं नामजद लालू कुमार को गिरफ्तार कर लिया था। जिससे घटना के संबंध में पुछताछ कर गुरूवार को न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। इस बाबत थानाध्यक्ष प्रशांत कुमार ने बताया कि 11 लोगों पर हत्या का मामला दर्ज किया गया है। जिसमें एक लालू कुमार को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। घटना का कारण स्पष्ट नहीं   है। लेकिन कई बिन्दुओ पर जांच की जा रही है।

बता दें कि मंगलवार की रात निर्मल यादव घोड़े पर सवार होकर बाबा विशुराउत स्थान मेला में आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम देखने गया था। लोगों का कहना था कि कार्यक्रम देखने के दौरान उनकी किसी से कहा सूनी हुई। जिसकी जानकारी परिवार वालों को भी थी। जानकारी मिलने पर परिवार वालों ने जब मेला पहुंच, उनका खोजबीन किया तो निर्मल यादव का कहीं पता नहीं चला। परिवार वालों को अंदेशा हुआ कि आंधी तुफान के कारण कहीं रूक गए होंगे। लेकिन बुधवार की सुबह भेलाही के पास बैंगा नदी में लोगों ने निर्मल का शव देखा गया।

बुधवार की देर शाम निर्मल यादव का दाह संस्कार किया गया। उनकी एकलौती बेटी प्रीति ने मुखार्गिन दी। बता दें कि निर्मल यादव चार सदस्यीय परिवार का एक मात्र सहारा था। उनके हत्या से वृद्ध पिता सियाराम यादव, पत्नी ललिता देवी और 14 वर्षीय बेटी के जिन्दगी में अंधेरा छा गया है। पति को खोने से बेसूध ललिता को परिवार चलाने और बेटी की अच्छी परवरिश की चिंता खाए जा रही है। प्रीति अबकी बार मैट्रिक परीक्षा पास की है। निर्मल ने बेटी को लेकर अपने मन में कई सपने देखे थे लेकिन उनकी हत्या से सभी पर पानी फिर गया। परिवार के उपर दुःखों का पहाड़ टूट पड़ा है। घर में सन्नाटा छा गया है। गाँव में मातमी माहौल है।

वहीँ निर्मल यादव के चचेरा भाई डीलर गजेन्द्र यादव ने बताया कि साजिश के तहत घटना को अंजाम दिया गया है।


Spread the news