मधेपुरा : BNMU विश्वविद्यालय ने अपनी पत्रिका ‘बीएनएमयू संवाद’ के प्रकाशन की तैयारियां की तेज

728x90
Spread the news

अमित कुमार
उप संपादक

मधेपुरा/बिहार : आधुनिक युग जनसंपर्क का युग है। आज सभी संस्थान यह चाहते हैं कि जनता के बीच उनकी पैठ बने, इसके लिए मीडिया एवं जनसंपर्क का सहारा लिया जाता है। बीएन. मंडल विश्वविद्यालय भी इसमें पीछे नहीं है।

बीएनएमयू के कुलपति प्रो डा अवध किशोर राय जनसंपर्क विभाग को लेकर काफी संजीदा हैं। वे खुद प्रत्येक मामले पर जनसंपर्क पदाधिकारी को आवश्यक दिशानिर्देश देते हैं और स्वयं भी अन्य लोगों के साथ-साथ मीडिया के लिए भी सहज ही उपलब्ध रहते हैं। कुलपति के कुशल नेतृत्व में बीएनएमयू अपने जनसंपर्क तंत्र को मजबूर करने में लगा है। इसी कड़ी में विश्वविद्यालय ने अपनी पत्रिका ‘बीएनएमयू संवाद’ के प्रकाशन की तैयारियां तेज कर दी हैं।

 कुलपति प्रो डा अवध किशोर राय खुद इसमें काफी रूची ले रहे हैं। इसी की बानगी है कि उन्होंने ‘बीएनएमयू संवाद’ निकालने की घोषणा 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर अपने संबोधन में की। इसके कुछ ही दिनों बाद 5 सितंबर को शिक्षक दिवस पर ‘बीएनएमयू संवाद’ के प्रकाशन की अधिसूचना भी जारी कर दी गयी। फिर दूसरे ही दिन ‘बीएनएमयू संवाद’ के संपादन-संचालन समिति की कुलपति की अध्यक्षता में पहली बैठक हुई। इसमें कुलपति ने कहा कि ‘बीएनएमयू संवाद’ विश्वविद्यालय का आइना बनेगा।

कुलपति ने बयाया कि राजभवन से मासिक पत्रिका ‘राजभवन संवाद’ का प्रकाशन किया जा रहा है। उसी की तर्ज पर ‘बीएनएमयू संवाद’ का प्रकाशन किया जाएगा। इसमें विश्वविद्यालय की विभिन्न सामग्रियों के साथ-साथ विभिन्न स्नातकोत्तर विभागों एवं महाविद्यालयों की गतिविधियों को भी स्थान दिया जाएगा। इसमें सामग्रियां भेजने और इसकी सदस्यता हेतु विश्वविद्यालय के सभी कार्यालयों, सभी स्नातकोत्तर विभागों, सभी अंगीभूत एवं संबद्ध महाविद्यालयों को शीघ्र ही पत्र लिखा जाएगा. साथ ही शिक्षकों, शोधार्थियों एवं विद्यार्थियों को भी इसकी सदस्यता लेने हेतु प्रेरित किया जाएगा। व्यक्तिगत वार्षिक सदस्यता राशि पांच सौ रूपये निर्धारित की गयी है। ‘बीएनएमयू संवाद’ का एक अलग एकाउंट होगा, जिसका संचालन डीएसडबल्यू एवं पीआरओ के संयुक्त रूप से करेंगे।

मालूम हो कि ”बीएनएमयू संवाद’ के लिए एक समिति का गठन किया गया है। कुलपति प्रो डा अवध किशोर राय प्रधान संरक्षक एवं प्रति कुलपति प्रो डा फारूक अली संरक्षक होंगे। पत्रिका के परामर्श समिति में डीएसडबल्यू डा नरेन्द्र श्रीवास्तव, सामाजिक विज्ञान संकायाध्यक्ष डा शिवमुनि यादव, मानविकी संकायाध्यक्ष डा ज्ञानंजय द्विवेदी, वाणिज्य संकायाध्यक्ष डा लंबोदर झा, विज्ञान संकायाध्यक्ष डा अरूण मिश्रा और शिक्षा संकायाध्यक्ष डा राणा जयराम सिंह को शामिल किया गया है। कुलसचिव कर्नल नीरज कुमार प्रकाशक होंगे। पीआरओ डा सुधांशु शेखर को संपादक की जिम्मेदारी दी गई है।

यहां यह विशेष रूप से उल्लेखनीय है कि डा सुधांशु शेखर पत्रकारिता की पृष्ठभूमि से शिक्षण में आए हैं। कुलपति ने इनकी नियुक्ति के कुछ ही दिनों बाद इन्हें जनसंपर्क पदाधिकारी की जिम्मेदारी दी थी। इन्होंने जनसंपर्क पदाधिकारी के रूप में पिछले एक वर्ष में विश्वविद्यालय की खबरों को प्रमुखता से प्रकाशित कराया। उनके प्रयासों से पारंपरिक मीडिया के अलावा सोशल मीडिया में भी विश्वविद्यालय से संबंधित सामग्रियों का खूब प्रचार-प्रसार हुआ। आशा है कि ‘बीएनएमयू संवाद’ भी लोकप्रिय होगा।


Spread the news