दरभंगा : जिलाधिकारी का सख्त आदेश, परीक्षा के दिन बन्द रहेंगे सभी फ़ोटो स्टेट की दूकान

728x90
Spread the news

ज़ाहिद अनवर (राजु) / दरभंगा

दरभंगा/बिहार : जिलाधिकारी डॉक्टर चंद्रशेखर सिंह ने समाहरणालय स्थित बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर सभागार में सभी केंद्रअधीक्षक एवं मजिस्ट्रेट के साथ बैठक में निर्देश देते हुए कहा कि बिहार कर्मचारी चयन आयोग द्वारा 8, 9 एवं 10 दिसंबर को होने वाली प्रतियोगिता परीक्षा को स्वच्छ एवं पारदर्शी तरीके से संपन्न कराएं।

उन्होंने कहा कि सभी मजिस्ट्रेट एवं पुलिस पदाधिकारी अपने अपने केंद्रों पर परीक्षा शुरू होने से डेढ़ घंटा पहले पहुंच जाएं। सभी परीक्षार्थियों का पूरी सख्ती से जांच करें एवं किसी भी परीक्षार्थी को कोई इलेक्ट्रॉनिक गैजट या अवांछित सामग्री के साथ परीक्षा केंद्र में प्रवेश न करने दें। उन्होंने कहा कि सभी परीक्षा केंद्रों पर जैमर लगे रहेंगे। इसके बावजूद भी मजिस्ट्रेट एवं केंद्र अधीक्षक को छोड़कर किसी के पास भी मोबाइल नहीं रहेगा। वीक्षकों के भी सही तरीके से जांच की जाएगी एवं उन्हें पहचान पत्र निर्गत किया जाना है।
परीक्षार्थियों का बायोमेट्रिक तरीके से हाजिरी ली जाएगी । परीक्षा केंद्र के अंदर परीक्षार्थी को जूता पहन के भी नहीं जाना है। कलम भी आयोग के तरफ से उपलब्ध कराया जाएगा जिसे परीक्षा के बाद वापस कर देना है। सभी परीक्षा हॉल में एक एक दीवार घड़ी रहेगी। परीक्षार्थी अपने साथ घडी ही नहीं ले जाएंगे। आयोग द्वारा विज्ञान, गणित एवं सामान्य अध्ययन विषय के एनसीईआरटी, बिहार टेक्स्ट बुक, आईसीएसई या अन्य परीक्षा बोर्ड के सिर्फ टेक्स्ट बुक ले जाने की अनुमति दी गयी है।

सभी मजिस्ट्रेट एवं वीक्षक यह सुनिश्चित करेंगे कि परीक्षार्थी जो किताब ले जा रहे हैं वह टेक्स्ट बुक ही हो। किसी भी तरह का गाइड परीक्षा केंद्र के अंदर नहीं ले जाना है। परीक्षा केंद्र के अंदर ले जाये जाने वाले सभी टेक्स्टबुक पर परीक्षार्थी अपना नाम और रोल नंबर भी जरूर लिखेंगे। परीक्षा के दिन शहर के सभी फोटो स्टेट की दुकान बंद रहेगी। सभी परीक्षा केंद्रों के 500 गज की परिधि में निषेधाज्ञा लागू रहेगी।

इससे पूर्व जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक ने प्रेस वार्ता में बताया कि 8, 9 एवं 10 दिसंबर को होने वाली यह परीक्षा प्रत्येक दिन दो पालियों में होगी। प्रथम पाली 9:30 बजे पूर्वाह्न से 11:45 बजे पूर्वाह्न तक तथा द्वितीय पाली 2:00 अपराहन से 4:15 बजे अपराहन तक होगी। जिला में कुल 30 परीक्षा केंद्र स्थापित किए गए हैं, जिसमें तीनों दिन मिलाकर 15264 परीक्षार्थी भाग लेंगे। परीक्षा को कदाचार मुक्त माहौल में संपन्न कराने के लिए 10 गश्ती दंडाधिकारी, 80 ऑब्जर्वर व 30 स्टैटिक दंडाधिकारी एवं 2 फ्लाइंग स्क्वायड भी गठित की गई है। पुलिस अधीक्षक गरिमा मलिक ने एसडीओ तथा एसडीपीओ एवं यातायात प्रभारी को निर्देश दिया है कि परीक्षा के दिन कहीं भी ट्रैफिक जाम न हो इसके लिए अलग से व्यवस्था करेंगे तथा सभी परीक्षा केंद्रों पर सतर्क होकर नजर रखेंगे एवं असामाजिक तत्वों पर कड़ी कार्रवाई करेंगे।


Spread the news