दरभंगा : पूरे ज़िले में आशा ममता की हड़ताल चौथे दिन भी जारी, स्वास्थ्य व्यवस्था चरमराया

728x90
Spread the news

मनीगाछी से पंकज कुमार की रिपोर्ट

मनीगाछी/दरभंगा : मंगलवार को आशा, ममता, कुरियर, एम्बूलेंस चालक, डेटा ऑपरेटर व सफाई कर्मियों के द्वारा आज चौथा दिन भी हड़ताल जारी रहा। जिससे पीएचसी, रेफरल अस्पताल में स्वास्थ्य सेवा मुहैया करवाने में व्यापक असर देखने को मिला। अपने बारह सूत्री मांग को लेकर आशा संघ की अध्यक्ष समुद्री देवी के अध्यक्षता में अपनी मांग के समर्थन में नारेबाजी करते हुए अपनी मांग माने जाने तक हड़ताल जारी रखने की बात कही। हालांकि आपातकाल के मरीजों के अलावा हर तरह के स्वास्थ्य सेवा बाधित कर दिये जाने से मरीजों को भारी कठनाईओ का सामना करना पड़ रहा है।

 मौके पर मुन्नी देवी, सावित्री कुमारी, विन्देश्वरी कुमारी, खुर्शीदा खातुन, गम्भीरा देवी, गौड़ी कुमारी, चन्दा देवी सहित कई अन्य आशा कर्मी मौजूद थी।अध्यक्ष समुद्री देवी ने कहा की टीकाकरण, प्रसव, प्रधानमंत्री एनसी जांच कार्य से दूर रहने की बात कही। वहीं पीएचसी में ईलाज कराने आए नेहरा के शम्भू सदाय, मरबाघाट की शहनाज खातुन, शकीला खातुन कनोखर की दुर्गा देवी, राजे के दशरथ सदाय सहित कई मरीजों ने बताया कि मैं सुबह से ही डॉक्टर से ईलाज कराने व बच्चे का सूई दिलाने के लिए बैठे है। कर्मियों के द्वारा हड़ताल पर रहने के कारण मायूस होकर घर वापस लौटना पर रहा हैं।

हालांकि पीएचसी में मौजूद प्रभारी डॉ मोहन झा ने कहा कि बिना ईलाज किये एक भी मरीजों को वापस नहीं जाना पड़ रहा है।


Spread the news