दरभंगा : पढ़ाते तो बहुत सारे स्कूल है लेकिन क्या आपने बाल भारती पब्लिक स्कूल की शिक्षा व्यवस्था देखा है?

728x90
Spread the news

ज़ाहिद अनवर (राजु) / दरभंगा

दरभंगा/बिहार : शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्रो में सैकड़ो की संख्या में पब्लिक स्कूल बड़ी संख्या में मौजूद है। लगभग सभी स्कूल का उद्देश्य तो शिक्षा देना तो है लेकिन बाल भारती पब्लिक स्कूल अनार सूरहचट्टी शिक्षा के साथ बच्चों के प्रतिभा को निखारने का काम कर रही जो प्रशंसनीय कदम है।

गौरतलब हो कि आज बाल भारती पब्लिक स्कूल अनार, सुरहाचट्टी, दरभंगा में विज्ञान सह कला प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। इसका उद्घाटन नागेंद्र झा महिला महाविद्यालय के इतिहास विभाग के व्याख्याता राकेश कुमार ने फीता काटकर किया। पचास की संख्या में द्वितीय वर्ग से नवम वर्ग तक के बच्चे शिक्षक सुनील कुमार, संजीव मिश्र, रत्नेश चौधरी एवं सुभाष चौधरी के निर्देशन में विभिन्न प्रकार के विज्ञान यंत्रो का प्रदर्शन किया गया।

इन बच्चे-बच्चियों में आजम बाबू, सुप्रिया राज, एहतेशाम, रजनीश दास, मो०रेहान, अपेक्षा आर्या, अंशु कुमारी, अनिल कुमार, विनायक कुमार, शुभकृति, आयेशा आदि के प्रदर्शन उत्कृष्ट रहे। कला – दीर्घा भी बच्चो, शिक्षको एवं अभिभावकों के मन को मोहते रहे। कला प्रदर्शनी का संयोजन शिक्षिका कल्पना चौधरी एवं प्रीति साव ने किया। इसमें राघव कुमार, छोटी कुमारी, दुर्गेश कुमार, शशिकांत कुमार, सक्षम कुमार, अंकिता कुमारी, अभियंकर, प्रकाश कुमार, अंकुर निषाद, जयेश आदि की कलाकृति को काफी सराहा गया। अभिभावकों एवं आगंतुकों ने कार्यक्रम की काफी प्रसंशा की।

उन्होंने ग्रामीण क्षेत्र के बच्चो के बीच इस तरह के प्रतिभाओं की तारीफ की। उन्होंने विद्यालय को भी धन्यवाद दिया की विद्यालय के निर्देशन में इनके बच्चो की प्रतिभा काफी निखार रही है। कार्यक्रम के अंत में विद्यालय के सह निर्देशक रवि कुमार ने छात्रों एवं शिक्षकों को इस तरह के सफल आयोजन के लिए धन्यवाद ज्ञापित किया।


Spread the news