मधेपुरा : आशा कार्यकर्ताओं के साथ बिहार सरकार कर रही है नाइंसाफी – भाकपा माले

728x90
Spread the news

मिथिलेश कुमार
संवाददाता
मुरलीगंज, मधेपुरा

मुरलीगंज/मधेपुरा/बिहार : आशा कार्यकर्ताओं ने मंगलवार को अपनी 12 सूत्री मांगो के समर्थन में पीएचसी परिसर में धरना दिया है। यह धरना बिहार चिकित्सा सह जन स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के राज्य व्यापी अहवान पर आशा कार्यकर्ता संघर्ष समिति मुरलीगंज के द्वारा विभिन्न मांगो को लेकर दिया गया।

धरना प्रदर्शन कर रहे आशा कार्यकर्ताओं ने कहा कि जब तक हमारी मांगे पूरी नहीं होगी तब तक हम लोग काम पर नहीं लौटेंगे। अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन और भूख हड़ताल करेंगे । वहीं मौके पर कार्यकर्ताओं ने जमकर नीतीश कुमार मुर्दाबाद एवं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मुर्दाबाद के नारे लगाए। आशा कार्यकर्ताओं के द्वारा 12 सूत्री मांगों को लेकर बिहार सरकार के खिलाफ राज्यव्यापी आंदोलन छेड़ चुके हैं। आशा कार्यकर्ताओं की मुख्य मांग है कि उन्हें भी राज्य कर्मचारी का दर्जा मिले ,और ₹18000 वेतन सहित 12 सूत्री मांग के लिए प्रदर्शन कर रही है । आशा कार्यकर्ताओं के धरना प्रदर्शन और आंदोलन को भाकपा माले ने भी अपना समर्थन दिया और भाकपा माले के नेता के के सिंह राठौड़ ने कहा कि आशा कार्यकर्ता की मांग जायज है। उनके साथ नाइंसाफी राज्य सरकार के द्वारा की जा रही है। उनके इस आंदोलन में हमारी पार्टी उनका समर्थन करती है।
मौके पर शशि देवी, फुल कुमारी, कुमारी किरण, मंजू देवी, कंचन देवी, रूबी देवी, मुन्नी देवी, शांति देवी, उर्मिला देवी, अनिता देवी, सुनीता देवी, सुनीता कुमारी, कीर्ति कुमारी, प्रियंका देवी, रीना देवी, आशा देवी, पूनम देवी सहित दर्जनों आशा मौजूद थी।


Spread the news