मधेपुरा : कलाकार अपने लिए नहीं बल्कि समाज के लिए जीते हैं- अमित अंशु

728x90
Spread the news

अमन कुमार
संवाददाता, सदर
मधेपुरा

मधेपुरा/बिहार : नवाचार रंगमंडल के बैनर तले सिंघेश्वर प्रखंड अंतर्गत आरए रेसिडेंशियल पब्लिक स्कूल सुखासन के प्रांगण में सात दिवसीय रंग कार्यशाला का समापन रविवार को किया गया। जिसमें विद्यालय के निदेशक नरेश कुमार यादव, स्वतंत्रता सेनानी राजकिशोर प्रसाद यादव, मिथिला विवि के नाट्य शास्त्र से उत्तीर्ण छात्र अमित कुमार अंशु, प्रशिक्षक मो आतिफ, कार्यशाला निदेशक सुमन कुमार मौजूद रहे।

इस मौके पर स्वतंत्रता सेनानी राजकिशोर प्रसाद यादव कहा कि भारतीय कला और संस्कृति को अक्षुण्ण बनाये रखने की जिम्मेवारी युवाओं को है। उन्होंने नवाचार रंगमंडल के कलाकारों को बधाई देते कहा कि मधेपुरा जैसे छोटे शहर में ऐसे आयोजन कर समाज में आपसी भाईचारा और सद्भाव का माहौल पैदा करने में सक्रिय हैं। मिथिला विवि के नाट्य शास्त्र से उत्तीर्ण छात्र अमित कुमार अंशु ने कहा कि कलाकार पैसे कमाने के लिए नहीं बल्कि समाज को एक नई संस्कृति और आपसी समन्वय पैदा करने का काम करता है। उन्होंने कहा कि भारतवर्ष में कला और संस्कृति का अपना एक अलग महत्व है। उन्होंने कहा कि कलाकार अपने लिए नहीं बल्कि समाज के लिए जीते हैं।

उन्होंने कहा कि ऐसे आयोजन से समाज में व्याप्त द्वेष भाव खत्म होता है। कार्यशाला में उपस्थित बच्चों ने कार्यशाला के दौरान तैयार किए गए नाटक का मंचन कर लोगों को सामाजिक सद्भाव का संदेश दिया। नाटक के माध्यम से कलाकारों ने ग्रामीण इलाके में पैसे की लालच में अपने परिवार के सदस्यों के साथ अपनाये जाने वाले अत्याचारों पर करारा चोट किया। नाटक के माध्यम से बताया गया कि सत्य की जीत हमेशा होती है भले ही परेशानी जितनी भी हो जाये।

कार्यशाला में उपस्थित सभी बच्चों को अतिथियों द्वारा प्रशस्ति-पत्र प्रदान किया गया।

 मौके पर अमरेश कुमार, आलोक कुमार, ओम प्रकाश कुमार, चंदन, सतीश सर, अमीषा, अंजली, गुरूनन्दन, अमन, मनीष, शिवानी, रवि, रितू, अंकित, मृत्युंजय, मन्नू, श्वेत कमल सहीत अन्य प्रशिक्षु मौजूद थे।


Spread the news