लुधियाना में “राष्ट्रीय एकता सम्मेलन” 2 दिसम्बर को, मौलाना अरशद मदनी सहित सभी धर्मों के प्रचारक करेंगे संबोधित

728x90
Spread the news

मेराज आलम
ब्यूरो, लुधियाना

लुधियाना/पंजाब : आज यहां ऐतिहासिक जामा मस्जिद लुधियाना में 2 दिसम्बर को शहर की नई दाना मंडी (जालंधर बायपास) में जमीअत उलमा हिन्द की ओर से  आगामी दो दिसंबर को आयोजित “राष्ट्रीय एकता सम्मेलन” की तैयारियों को लेकर नायब शाही इमाम मौलाना मुहम्मद उस्मान रहमानी लुधियानवी की अध्यक्षता में मीटिंग हुई। इस अवसर पर मौलाना मुहम्मद खालिद ,मौलाना मुमताज़ क़ासमी शिमला, मुफ्ती वसीम अकरम, मौलाना साजिद, कारी खुर्शीद शेरवानी, हाफिज इजहार आलम, नसीबूदीन, कारी गायूर आलम, मुहम्मद हाशिम राहों रोड , शाही इमाम पंजाब के मुख्य सचिव मुहम्मद मुस्तकीम अहरारी व शहर के अन्य गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।

मीटिंग को संबोधित करते हुए नायब शाही इमाम मौलाना मुहम्मद उस्मान रहमानी लुधियानवी ने कहा कि 2 दिसम्बर को लुधियाना दाना मंडी में होने वाला राष्ट्रीय एकता सम्मेलन इंशाअल्लाह ऐतिहासिक होगा। उन्होंने बताया कि इस सम्मेलन की अध्यक्षता हजऱत मौलाना अरशद मदनी साहब अध्यक्ष जमीअत उलमा हिन्द करेंगे, जबकि शाही इमाम पंजाब मौलाना हबीब उर रहमान सानी लुधियानवी मुख्य अतिथि होंगे। मौलाना मुहम्मद उस्मान ने बताया कि इस ऐकता सम्मेलन में सभी धर्मों के प्रचारक शामिल होंगे जिनमें गुरुद्वारा श्री दुख निवारण साहिब के प्रधान सरदार प्रितपाल सिंह जी , श्री दर्शन रत्न रावण जी, स्वामी सरस्वती महाराज गुरुनानक पूरा लुधियाना, बिशप युनस मसीह सी एन आई चर्च लुधियाना, संत बाबा लखा सिंह जी नानकसर वाले मंच सांझा करेंगें।

नायब शाही इमाम मौलाना मुहम्मद उस्मान लुधियानवी ने बताया कि देश में धर्म के नाम पर बढ़ रही नफरत को मुहब्बत में बदलने के उद्देश्य से ही यह कार्यक्रम किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि इस प्रोग्राम में हिन्दू-मुस्लिम, सिख-दलित और ईसाई भाई शामिल होंगे। उस्मान ने बताया कि इसकी तैयारी के लिए हरियाणा, हिमाचल व यूपी से जमीअत उलमा के सदस्य काम कर रहे हैं। प्रोग्राम में इंशाअल्लाह बड़ी संख्या में मुसलमान शामिल होंगे।


Spread the news