मधेपुरा : अम्बेडकर हॉस्टल में धूमधाम से मना संविधान दिवस

728x90
Spread the news

अमित कुमार
उप संपादक

संविधान भारत की अमूल्य धरोहर – डॉ जवाहर

संविधान के सहारे मजबूत राष्ट्र के रूप में उभर रहा भारत -जवाहर पासवान

मधेपुरा/बिहार : स्थानीय अम्बेडकर हॉस्टल में संविधान दिवस धूमधाम से मनाया गया।   हॉस्टल द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में छात्रावास अधीक्षक सह सीनेट, सिंडीकेट सदस्य प्रो जवाहर पासवान ने कहा की आजादी के बाद अभी तक राष्ट्र के सफर का श्रेय संविधान को को जाता है। उन्होंने कहा की भारत का संविधान विश्व का सबसे बड़ा संविधान है। अपने संबोधन में उन्होंने कहा की किसी भी लोकतांत्रिक देश के विकास के लिए संविधान का होना बहुत जरूरी है। आजादी के बाद देश के सामने सबसे बड़ी चुनौती राष्ट्र का संचालन था जिसको लेकर एक मजबूत संविधान सभा का गठन किया गया और बाबा साहब अम्बेडकर के नेतृत्व में 26 नवंबर 1949 को लगभग तीन साल के मैराथन प्रयास से विश्व का सबसे बड़ा संविधान मिला।

उन्होंने कहा की राष्ट्र बाबा साहब, डॉ राजेंद्र प्रसाद सहित उन सभी हस्तियों का आभारी है, जिनके प्रयास से विभिन्न हालातो को झेलते हुए भारत आज विश्व शक्ति बनने की ओर अग्रसर है।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रो सिद्धेश्वर कश्यप ने कहा की आज का दिन भारत के लिए किसी पर्व से कम नहीं क्योंकि आज ही के दिन उन नियमों का संकलन पूरा हुआ था, जिसने समाज के हर वर्ग को समानता का अधिकार देते हुए स्वतंत्र रूप से आगे बढ़ने का अवसर दिया था। वहीँ हर्षवर्धन सिंह राठौर ने कहा की आज के दिन उन सभी रत्नों को याद करने की जरूरत है जिन्होंने अथक प्रयास से भारत को मजबूत हथियार दिया।

 इस मौके पर राजहंस राज, राजकुमार रजक, हरिमन, मंजू सोरेन, विकास पासवान, सनोज कुमार, ललटू, मनीष, संतोष, राजेश, मुलचन, मोहन, चंदन, आशीष, सुनील, सनी, रवि सहित अन्य मौजूद थे।


Spread the news