मधेपुरा : मनरेगा योजना की जांच के लिए टीम गठित

728x90
Spread the news

सुभाष कुमार
संवाददाता
घैलाढ़, मधेपुरा

घैलाढ़/मधेपुरा/बिहार : घैलाढ़ प्रखंड में मनरेगा योजना  के तहत सरकारी राशि के बंदरबांट की शिकायत अब सरकार के कानों तक भी पहुचने लगी है, मधेपुरा के जिला पदाधिकारी नवदीप शुल्का के नेतृत्व में शनिवार को पांच सदस्यीय जांच टीम द्वारा घैलाढ़ प्रखंड के अर्रहा महुआ दिघ्रा, भान टेकटी, भतरंधा परमानपुर, बरदाहा के पांच पंचायतों में मनरेगा योजना के कार्यो की जांच के लिए टीम का गठन किया गया है।

विभागीय सूत्रो ने बताया कि डीडीसी मुकेश कुमार ने मंगलवार को गठित टीम में जिला खनन पदाधिकारी मधेपुरा के साथ कनीय अभियंता नीरज कुमार मधेपुरा, अर्रहा महुआ दिघ्रा पंचायत के लिए, वही भान टेकटी पंचायत के लिए जिला कल्याण पदाधिकारी मधेपुरा व कनीय अभियंता अमरेंद्र कुमार, जबकि भतरंधा परमानपुर पंचायत के लिए जिला कल्याण पदाधिकारी मधेपुरा कनिया अभियंता रंजीत कुमार शर्मा और बरदाहा पंचायत के लिए सहायक जिला बाल संरक्षण पदाधिकारी मधेपुरा व कनीय अभियंता मोहम्मद फैयाज अंसारी को जांच टीम के लिए प्रतिनियुक्त किया गया । वही अर्रह महुआ दिघ्रा पंचायत के वार्ड नंबर एक के मनरेगा से चल रहे सभी योजनाओं को जांच किया गया, जहां संतोष प्रद पाया गया ।
टीम को निर्देश दिया गया है कि सभी पंचायत के वर्ष 2017- 18 तक चयनित व कार्यान्वित सभी मनरेगा योजनाओं के प्राक्कलन व उस पर किए गए व्यय की जांच कर तीन दिनों के अंदर रिपोर्ट समर्पित किया जाए।