मधेपुरा : कुमारखंड में बिहार प्रांतीय खेतिहर मजदूर यूनियन ने किया धरना-प्रदर्शन

728x90
Spread the news

मुजाहिद आलम
संवाददाता
कुमारखंड, मधेपुरा

कुमारखंड/ मधेपुरा/ बिहार: प्रखंड कार्यालय परिसर में माकपा के बिहार प्रांतीय खेतिहर मजदूर यूनियन के कार्यकर्ताओं ने एक दिवसीय धरना प्रदर्शन दिया। जिसकी अध्यक्षता कामरेड  चंदेशवरी रजक ने किया। बैठक को संबोधित करते हुए जिला सचिव कामरेड ललन कुमार ने कहा आजादी के 70 साल बाद भी खेतिहर मजदूर को घर बनाने के लिए किसी सरकार ने 10 डिसमिल जमीन नहीं दिया। जिस गरीब को पर्चा मिला उसे भी जमीन पर सरकार द्वारा दखल नहीं दिलाया गया। आज खेतिहर मजदूर को शिक्षा,स्वास्थ्य,सम्मान और रोजगार से वंचित रखा गया है। राज्य और केंद्र में जिसकी भी सरकार आई है सब ने किसान व मजदूर और युवाओं को ठगने का काम किया है।

कामरेड पन्नालाल यादव ने कहा कि  केंद्र और  राज्य में बीजेपी की सरकार रहने के बाद भी बिहार के साथ सौतेला व्यवहार कर रहे हैं। उन्होंने चुनाव के समय वादा किया था अगर हमारी सरकार केंद्र और राज्य में रहेगी तो बिहार को विशेष राज्य का दर्जा मिलेगा लेकिन ये हवा हवाई सरकार ने लोगों को गुमराह करने का काम किया है। आज सरकार में बलात्कार,घूसखोरी चरम सीमा पर है। सरकार में अफसरशाही बेलगाम हो चुकी है। प्रखंड स्तर पर आवास,मनरेगा,जन वितरण प्रणाली में खुलेआम धांधली हो रहा है सरकार हाथ पे हाथ धरे बैठी हुई है। आज चारों ओर से गरीब,किसान का शोषण किया जा रहा है।आज सूई से लेकर हवाई जहाज तक मजदूर बनाता है। इसके बाद भी मजदूर के लिए सरकार समावेशी कानून नहीं बनाती है।

    धरना में  सभी वक्ताओं ने बारी-बारी से अपनी बातें रखी। वहीं चंद्रेश्वर रजक व अन्य कार्यकर्ताओं ने 2 सूत्री मांग पत्र अंचल अधिकारी को सौंपा गया। जिसमें सभी भूमिहीन को घर बनाने के लिए 10 डिसमिल जमीन देने तथा पर्चाधारी को जमीन पर दखल दिलाकर प्रधानमंत्री आवास देने की मांग शामिल है । मौके पर रघुनाथ ठाकुर,कैलाश सिंह,राम नारायण यादव,अशोक यादव, बिजली खातून,राज किशोर सरकार,सुभाष, भैया जी लाल सरदार, उमेश यादव, अली हुसैन,रिजवान आलम,राजेंद्र यादव समेत  दर्जनों कार्यकर्ता मौजूद थे।


Spread the news