मधेपुरा : तीन-तीन मंत्री होने के बावजूद कोसी के साथ सौतेला रवैया-पप्पू यादव

728x90
Spread the news

मुजाहिद आलम
संवाददाता
कुमारखंड, मधेपुरा

कुमारखंड/मधेपुरा/बिहार : सीएचसी कुमारखंड में पत्रकार को संबोधित करते हुए जनाधिकार पार्टी के संरक्षक सह सांसद  पप्पू यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जुबानी प्रहार करते हुए आरोप लगाया कि वे लोकतंत्र को खत्म करना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि अपने अधिकार की मांग करने वाले 5 छात्रों को थाने में बंद कर रात भर प्रताड़ित करने और सुबह में छोड़ देने की घटना इस बात का प्रमाण है कि सीएम नीतीश कुमार लोकतंत्र के वजूद को खत्म कर देना चाहते हैं।

उन्होंने कहा कि आरा डीएम द्वारा डॉक्टर के साथ  किए गए दुर्व्यवहार के विरोध में  राज्य भर के डॉक्टरों के हड़ताल के कारण ओपीडी बंद रहने की वजह से आवाम को  मुश्किलों का सामना करना पर रहा है। मौके पर ही उन्होंने सीएचसी प्रभारी डॉक्टर वेद प्रकाश गुप्ता से भी फोन पर बात कर उनसे स्वास्थ्य सेवा चालू रखने को कहा। उन्होंने कहा कि आम लोगों के जीवन के साथ मत खेलिए। सांसद ने डॉक्टरों पर बरसते हुए सरकार से मांग किया है कि अगर इस हड़ताल के कारण किसी की मौत होती है तो ऐसे डॉक्टरों के विरुद्ध 302 का मुकदमा किया जाए।

मुख्यमंत्री के रैली पर निशाना साधते हुए श्री यादव ने कहा कि 4 जिलों की रैली में सारे मंत्री और माफिया का पैसा 3 करोड़ से ज्यादा खर्च किया गया और 10 हजार लोगों को भाड़े पर लाया गया। उन्होंने कहा कि इलाके के तीन मंत्री विजेंद्र यादव, दिनेश यादव और रमेश ऋषिदेव से पूछना चाहता हूं कि अगर आप लोगों को कोसी सी हमदर्दी थी तो क्यों नहीं मंच से एक बार भी  एम्स अस्पताल, एथेनॉल फैक्ट्री, मक्का आधारित फैक्ट्री, कोसी में बनने वाले दो पूल, सेंट्रल स्कूल की स्थापना, ओवरब्रिज निर्माण, एनएच 107 के लिए जमीन अधिग्रहण और मधेपुरा-सुपौल को सुखाड़ घोषित करने की मांग मुख्यमंत्री किये, उन्होंने कहा कि ये दोहरी निति नहीं चलेगी और अपने इलाके के प्रति दोहरी निति अपनाने वाले मंत्रियों को इस्तीफा दे देना चाहिए।

 सांसद ने कहा कि सहरसा को सूखा घोषित कर मधेपुरा और सुपौल के साथ दोहरी नीति से यह स्पष्ट हो जाता है कि नीतीश कुमार की सरकार और यहां के मंत्री कोसी के इलाके के लोगों के प्रति कितने गंभीर हैं। श्री यादव ने कहा कि अब आर-पार की लड़ाई शुरू हो चुकी है जो रुकने का नाम नहीं लेगा। उन्होंने कहा कि वे और उनकी पार्टी 132 करोड़ से बनने वाले एथेनॉल फैक्ट्री, मक्का आधारित फैक्ट्री, पूर्णिया में हाई कोर्ट का निर्माण, अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय को पैसा देने पर लगी रोक, सेंट्रल स्कूल की मधेपुरा और सुपौल में स्थापना जैसे मुद्दे को लेकर जंग का ऐलान कर दिया है ।

मौके पर प्रखंड जाप संयोजक मुकेश कुमार यादव, रंजीत कुमार, मनोज यादव, रंजीत कुमार, सुनील मेहता सहित दर्जनों पार्टी कार्यकर्ता मौजूद थे।


Spread the news