मधेपुरा : कुमारखंड में अस्ताचगामी सूर्य को दिया गया अर्घ्य -घाटों पर उमड़ी भीड़

728x90
Spread the news

मुजाहिद आलम
संवाददाता
कुमारखंड, मधेपुरा

कुमारखंड/मधेपुरा/बिहार:  प्रखंड के विभिन्न पंचायतों में लोक आस्था का महापर्व छठ के अवसर पर मंगलवार की शाम छठव्रती महिलाओं ने  घाटों पर अस्ताचगामी सूर्य को अर्घ्य अर्पित किया । इस अवसर पर घाटों पर भारी भीड़ उमड़ पड़ी ।

       प्रखंड के भतनी सुरसर नदी घाट,टिकुलिया नदी घाट,रौता नदी घाट,टेंगराहा नदी घाट,प्रखंड परिसर तालाब घाट,भवानीपुर तालाब घाट,यदुआपट्टी तालाब घाट सहित विभिन्न घाटों पर श्रद्धालुओं ने अस्ताचगामी  सूर्य को पहला  अर्घ्य अर्पित किया। सभी घाटों पर साफ सफाई की  व्यापक व्यवस्था नजर आई । सभी घाट रंग बिरंगे झालरों, फूलों और  पत्तियों से पटा रहा। घाटों पर हरे भरे केला के  पेड़ आकर्षण का केंद्र बना रहा।छठव्रती महिलाएं रंग बिरंगे वस्त्रों में देवी स्वरूप नजर आ रही थीं। बच्चे नये नये कपड़े पहन कर घाटों पर पटाखे फोडने में व्यस्त नजर आए ।

     सनद रहे कि  सभी चिन्हित 13 घाटों पर प्रशासन चुस्त दुरुस्त दिखा। भतनी सुरसर नदी घाट पर एसडीआरएफ  टीम में हवलदार सुनील प्रसाद,सिपाही निरंजन कुमार बोट के साथ गहरे पानी में घाटों पर गस्ती व निगरानी करते रहे । अंचल अधिकारी जयप्रकाश राय, प्रखंड विकास पदाधिकारी नवीन कुमार सिंहा तथा  थाना अध्यक्ष मुकेश कुमार सभी घाटों का निरीक्षण करते रहे।सीओ जयप्रकाश राय ने बताया कि  सभी घाटों पर दण्डाधिकारी , गोताखोर प्रतिनियुक्त किया गया है। ताकि श्रद्धालुओं को गहरे पानी से रक्षा किया जा सके ।

 गौरतलब है कि  भतनी सुरसर नदी घाट पर अमीर मंडल के सौजन्य से दो दिवसीय रामचरित्र मानस सत्संग का आयोजन किया गया है। घाट पर छठी माता , सूर्य भगवान, हनुमान जी की पूजा पाठ के लिए प्रतिमाएं बनायी गयी  है। जिसमें घाटों पर आने-जाने वाले श्रद्धालुओं के लिए शुद्ध पेयजल तथा बैठने की समुचित व्यवस्था की गई है।

     उक्त बाबत  सुनील कुमार सिंह ने बताया कि  मां छठी से जो भी  मनोकामना मांगते हैं उसे पूरा होने के बाद वह अपने वचन पर भगवान की पूजा करते हैं। उसकी मुरादें पूरी होती है।एक बालक अपने घर से छठ घाट तक दण्डवत् पहुंच  कर सूर्य भगवान को अर्घ्य अर्पित किया।


Spread the news