कटिहार : पूर्व विधायक अब्दुल जलील का निधन – क्षेत्र में शोक की लहर

728x90
Spread the news

मुर्शिद आलम की रिपोर्ट

कटिहार /बिहार: जिला अंतर्गत कदवा विधानसभा क्षेत्र के पूर्व विधायक अब्दुल जलील का निधन हो गया । वे कई महीने से बीमार चल रहे थे । उनके निधन की खबर फैलते ही क्षेत्र में शोक की लहर व्याप्त है ।

एनसीपी  युवा प्रकोष्ठ  के बिहार प्रदेश अध्यक्ष  राहत कादरी ने कदवा के पूर्व विधायक  अब्दुल जलील के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा है कि सीमांचल ने अपना एक कद्दावर और गरीबों का मसीहा  खो दिया है। जिसकी भरपाई दूर तक संभव नहीं है। साथ ही साथ श्री कादरी ने कहा कि  जलील साहब प्रशासन पर बहुत अच्छी पकड़ रखते थे और गरीबों के लिए हमेशा से संघर्ष करते रहे। वे हमेशा आपसी सदभाव,  प्रेम और भाईचारा को बांटते रहे। आज हम लोगों को छोड़ कर चले गए लेकिन उनके द्वारा किए हुए कार्य सीमांचल की जनता कभी नहीं भूल पाएगी और हम लोग उनको प्यार से अब्दुल जलील हीरो के नाम से पुकारते थे।उन्होंने कहा कि  वह तीन दफा  कदवा विधान सभा से विधायक रहे। वे  अपने कार्यकाल में अफसरशाही के खिलाफ हमेशा आवाज उठाते रहे। क़ादरी ने कहा कि इस दुख की घड़ी में राष्ट्रवादी परिवार उनके परिवार के साथ खड़ा है।

    सनद रहे कि पूर्व विधायक अब्दुल जलील 60 वर्ष के थे तथा  कई महीनों से बीमार चल रहे थे। स्थानीय  रेडिएंट हास्पिटल  में उनका इलाज चल रहा था । इलाज के क्रम में ही उनका निधन हो गया। आज उनकी नमाज ए जनाजा उनके पैत्रिक गांव आजमनगर कब्रिस्तान में पढ़ाई गई । उनके निधन से पूरे सीमांचल में मातमी सन्नाटा है। उनके जनाजे में हजारों की तादाद में  मौजूद लोगों ने उन्हें सुपुर्द-ए-खाक किया।


Spread the news