समस्तीपुर : विभूतिपुर में भव्य कवि सम्मेलन का आयोजन

728x90
Spread the news

रंजीत कुमार की रिपोर्ट

विभूतिपुर/समस्तीपुर/बिहार : विभूतिपुर प्रखंड क्षेत्र के खोकसाहा संस्कृत विद्यालय के प्रांगण में सर्वमंगला पूजा समिति के तत्वाधान में भव्य कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया। कवि सम्मेलन की शुरुआत होने से पहले समिति की ओर से अतिथियों को मिथिला परंपरा के अनुसार पाग, चादर, माला आदि भेंटकर सम्मानित करने के बाद कार्यक्रम की शुरुआत की गयी।

सम्मेलन में शायर एवं कवियों ने अपनी रचनाओं के माध्यम से पूरी रात श्रोताओ का मनोरंजन किया। हास्य कवियों ने अपने व्यंग्य से दर्शको को ठहाके लगाने पर मजबूर कर दिया। कार्यक्रम का शुभारम्भ अतिथियों ने दीप प्रज्ज्वलित कर के किया।
वही मुख्य अतिथि के रूप में जिला पार्षद रीना राय नारी शक्ति और भ्रूण हत्या पर रचित छोटी सी कविता के माध्यम से सम्मेलन का आगाज़ किया। कवयित्री स्वयंप्रभा की रचना जिंदगी जीने का नाम है, गगनदेव चौधरी की रचना माते तेरा पय पीकर पला बढा बढता ही गया, कुमार अमरेश की रचना चल चल पाकिस्तान मिटा दें आतंकवाद की जन्मभूमी का विश्व पटल से नाम मिटा दें, चाँद मुसाफिर की रचना रौशनी को निगल रहा आजकल अंधेरा कुर्सियों पर डाला है उल्लुअों ने डेरा, रामाकांत रमा की रचना नेता लोग बनै छै अोहिना बड़ बड़ बेलना बेलअ पड़ै छै सुक्खल नदी नाव चलाकअ खोइल लगौटी हेलअ पड़ै छै, डॉक्टर सच्चिदानंद पाठक की रचना बाबा आबअ ने हमरा कवरेज एरिया, प्रभु नारायण झा की रचना नीचे हूं पर नीच नहीं मानता , विनय भूषण की रचना छोड दिया हमने आदि लोंगो ने अपनी कविताओं सुनाकर खूब वाहवाही लूटी।
वही मंच पर उपस्थित मुख्य अतिथियो ने कहा की इस तरह के सांस्कृतिक आयोजन से आपसी सौहार्द बढ़ता है तथा भाषा को भी बढ़ावा मिलता है।

कार्यक्रम की अध्यक्षता चांद मुसाफिर ने किया वही संचालन बाबू प्रसाद शर्मा ने किया। मौके पर युवा मोर्चा जिला अध्यक्ष गुंजन मिश्रा, भाजपा मंडल अध्यक्ष अमन पराशर, दीपक झा, अमरेश कुमार, गौरव कुमार झा, शशि कुमार सुमन, महंथ श्री गोपाल दास महाराज, मनोरंजन कुमार मिश्र, अमरेश कुमार, सुनीता शर्मा, राजा राम महतो दर्जनों कवि सहित हजारों की संख्या में श्रोता उपस्थित थे।


Spread the news