दरभंगा : निजी अस्पताल कर्मी की गुंडागर्दी फिर आई सामने, मरीज के परिजन को मारकर किया घायल

Spread the news

ज़ाहिद अनवर (राजु) / दरभंगा

दरभंगा/बिहार : मंगलवार को मधुबनी जिला के फुलपरास के रहने वाले राम लखन मंडल अपनी मां के ईलाज के लिए 1 नवम्बर को दोनार स्थित एक निजी नर्सिग होम में भर्ती कराया। बीमारी ठीक नहीं होने को लेकर आज सुबह अस्पताल से डिस्चार्ज करने का आग्रह किया। जिसकों लेकर मरीज के परिजन व डॉक्टर के कर्मियों के बीच तू-तू, मै-मै हो गया। बात मारपीट तक पहुंच गई। निजी अस्पताल के कर्मी और मरीज के परिजनों के बीच जमकर हाथा-पाई व मारपीट हुई। जिसमें मरीज के एक परिजन का सिर फट गया। जिसकों लेकर बीआईपी पथ को दोनार के पास कुछ देर के लिए आक्रोशित लोगो ने जाम कर दिया।

बेता सहायक थाना प्रभारी ने मौके पर पहुंच कर जाम को हटवाया और घायल व्यक्ति को डीएमसीएच में भर्ती कराया है। देखते ही देखते पूरा अस्पताल व सड़क रणक्षेत्र में तब्दील हो गया। इस संबंध में घायल राम लखन मंडल ने बेता ओपी में लिखित आवेदन देकर कहा है कि अस्पताल कर्मी द्वारा चाकू से घायल कर और मारकर उसका सिर फोर दिया गया है। साथ ही साथ कर्मी के द्वारा उन्हे बूरी तरह पीटाई करते हुए पैसा भी छीन लिया है। नर्सिग होम के संचालक डॉ.नीरज प्रसाद ने कहा है कि मरीज के द्वारा बकाया पैसा नहीं दिये जाने को लेकर इस तरह का हंगामा किया गया है। उन्होने अपने कर्मियों के द्वारा मारपीट किये जाने से इंकार किया है।

इस संबंध में बेंता ओपी थानाध्यक्ष आशुतोष कुमार झा ने कहा कि घायल व्यक्ति के आवेदन पर पुलिस जांच कर रही है।


Spread the news
advertise