दरभंगा : संवेदनहीन होते जा रहे है आज के नेता, मामला डीएमसीएच में चूहे के कुतरने को लेकर दिए बयान पर बवाल का

Spread the news

ज़ाहिद अनवर (राजु) / दरभंगा

दरभंगा/बिहार : समय के अनुसार राजनीति के अर्थ में भी बड़ी तेजी से बदलाव आता जा रहा है। कभी राजनीति का अर्थ लोगो की सेवा करना हुआ करता था जबकि अब राजनीति का एकमात्र अर्थ रह गया है सत्ता सुख। वर्तमान में लगभग सभी दल के राजनेता इतने संवेदनहीन हो गए है कि उनकी नज़र में इंसान की जान का कोई मोल नही रहा।

गौरतलब हो कि डीएमसीएच् दरभंगा में विगत दिनों चूहा द्वारा कुतरने से नवजात की मौत के मामले में केन्द्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री के बयान कुछ ऐसा ही साबित कर रहा है। इसको लेकर जन अधिकार पार्टी लोकतांत्रिक ने आज आयकर चौक पर केन्द्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री और बिहार के स्वास्थ्य मंत्री का पुतला दहन किया।

इस मौके पर पार्टी के जिलाध्यक्ष डॉ.अब्दुस सलाम उर्फ मुन्ना खान ने कहा कि नवजात शिशु की मौत पर केन्द्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री का बयान अनर्गल और निंदनीय है। उन्होंने कहा कि मंत्री ने इस घटना पर कहा था कि छोटी-मोटी घटनाएं होती रहती हैं। इस बयान से डीएमसीएच के अधीक्षक और जिलाधिकारी द्वारा गठित जांच कमिटी कहीं न कहीं प्रभावित होगी। उन्होंने कहा कि डीएमसीएच के आइसीयु जैसे अति संवेदन क्षेत्र में चूहे द्वारा नवजात शिशु को कुतर देना बहुत ही गंभीर मामला है। उन्होंने मुख्यमंत्री से मांग की कि किसी भी परिस्थिति में इसकी निष्पक्ष जांच होनी चाहिए और ड्युटी पर तैनात लोगों के विरूद्ध 302 का मुकदमा दर्ज किया जाना चाहिए।

मौके पर पार्टी के युवा जिला अध्यक्ष चुनमुन यादव, प्रदेश सचिव चंद्रकांत सिंह, रमीज अली खान, पुतुल बिहारी, सुनील कुमार पप्पू, महेश पासवान, सैयद खलिकुज्जमा, आरजू खान, सनाउल्ला खान, तहसीन अहमद खान, सगीर अहमद, प्रशांत झा, विजय यादव, इनामुल हक, आसमा खातून, मो. दिलशाद, मो. जावेद, मो. इस्माईल, नौशाद अहमद आदि उपस्थित थे।


Spread the news
advertise