जिला स्तरीय सात दिवसीय जूट उत्पाद प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ डीएम कौशल कुमार ने किया

728x90
Spread the news

छातापुर/सुपौल/बिहार : छातापुर प्रखंड कार्यालय परिसर स्थित ललित नारायण मिश्र सभा भवन में मंगलवार को जिला स्तरीय सात दिवसीय जूट उत्पाद प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ डीएम कौशल कुमार ने किया गया। कृषि प्रौधोगिकी प्रबंधन अभिकरण आत्मा सुपौल के तत्वाधान में आयोजित प्रशिक्षण कार्यक्रम का दीप प्रज्ज्वलित कर विधिवत उद्घाटन किया। डीएम ई किसान भवन पहूंचे जहां जूट के विभिन्न उत्पादों की जानकारी ली और कृषि संयंत्र से सुतली बनाने के विधियों से अवगत हुए। डीएम के साथ एसडीएम एस जेड हसन, डीएओ समीर कुमार, एसएओ राहुल राज भी थे।

वहीं प्रखंड प्रशासन के कई पदाधिकारी व कर्मी के अलावे जनप्रतिनिधि व छातापुर तथा त्रिवेणीगंज के कृषकगण शामिल थे। इस मौके पर डीएम श्री कुमार ने प्रशिक्षु महिला व पुरूष किसानों से नियमित रूप से प्रशिक्षण में भाग लेने तथा प्रशिक्षित होकर उसे आत्मसात करने को कहा। बताया कि जूट की पैदावार तथा उसके उत्पादों को बढ़ावा दिया जा रहा है। ताकि किसानों की आय दोगुनी कर उसे समृद्ध किया जा सके। जूट और उसके उत्पाद की क्वालिटी जितनी अच्छी होगी उसका मूल्य भी अच्छा मिलेगा। बताया कि किसान समुह बनाकर जूट से जो भी उत्पाद तैयार करेंगे उसे जेसीआई के माध्यम से बेचकर अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं। पैदावार व उत्पादन की दिशा में किसानों को प्रशासन की ओर से हर संभव सहयोग मिलेगा, एसडीएम श्री हसन ने बताया कि जिले में जूट का पैदावार करने वाले सबसे अधिक किसान त्रिवेणीगंज अनुमंडल में है। कराये गये सर्वे के अनुसार छातापुर एवं त्रिवेणीगंज अंचल क्षेत्र मे छह हजार से अधिक किसान हैं।

बताया कि जूट का मूल्य यदि पांच हजार प्रति क्विंटल रहेगा तो किसान उससे उत्पाद तैयार कर 10 हजार रूपए प्रति क्विंटल बेच सकेंगे, जूट की क्वालिटी गोडाई पर निर्भर रहता है, इसलिए किसान विभागीय से नीजि जमीन में भी गड्ढा खुदवाकर उसमें गोराई कर सकते हैं, डीएओ ने कहा कि जूट नगदी फसल है किसानों को आर्थिक रूप से मजबुत बनाने के लिए अच्छा विकल्प है, प्रशिक्षण में छातापुर अंचल के 24 पुरुष तथा 12 महिला एवं त्रिवेणीगंज अंचल के 36 पुरुष तथा 18 महिला कृषक भाग ले रही है, सभी राजस्व ग्राम मे कृषकों को जागरूक कर समुह बनवाया जा रहा है, बीडीओ रीतेश कुमार सिंह के संचालन में हुए कार्यक्रम में अंचलाधिकारी उपेंद्र कुमार, बीसीओ अरूण कुमार,  नरेगा पीओ कौशल राय, बीपीआरओ माधवेंद्र कुमार, मुख्यालय पंचायत के मुखिया पति मकशुद मसन, बीएओ अभय कुमार चौधरी, कृषि समन्वयक अशोक चौरसिया, ज्ञानशंकर सिंह, कृत्यानंद महत्मान, चितरंजन कुमार, नवीन कुमार मंडल, एटीएम सुबोध कुमार, पंकज कुमार, नरेंद्र कुमार सहित सभी किसान सलाहकार मौजूद थे।
नौशाद आदिल की रिपोर्ट


Spread the news

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें