विदाई समारोह में शिक्षक फैयाज अहमद को अंगवस्त्र और माला पहनाकर किया गया सम्मानित

728x90
Spread the news

चौसा/मधेपुरा/बिहार : संपूर्ण संसार नश्वर है लेकिन व्यक्ति का कर्म अमर है। व्यक्ति रहे या न रहे उनका कर्म कालजयी होता है। लिहाजा हमें जीवन के हर क्षेत्र में सद्कर्म करना चाहिए।

     उक्त बातें प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी नरेंद्र झा ने कही । वे गुरूवार को महादेव लाल मध्य विद्यालय के शिक्षक फैलाव अहमद के सम्मान में आयोजित विदाई समारोह को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि फैयाज जी ने अपने अल्प सेवाकाल में कर्तव्यों का मिसाल कायम किया था जो अनुकरणीय है। पूर्व बीआरपी रामप्रकाश कुमार रेणु और प्रभारी प्रधानाध्यापिका मंजू कुमारी ने कहा कि फैयाज साहब का व्यक्तित्व शिष्टता का पर्याय था। लिहाजा उनकी कमी हमेशा खलेगी।

        सनद रहे कि फैयाज अहमद महादेव लाल मध्य विद्यालय चौसा में 2016 से उर्दू शिक्षक के पद पर कार्यरत थे । गृह जिला में नियुक्त होने के कारण उन्होंने अपने पद से त्यागपत्र दे दिया था।

        मौके पर कौशल पासवान, शिक्षक यहिया सिद्दीकी, भालचंद्र मंडल ,मंजर इमाम ,शमशाद नदाफ ,राजेश कुमार, लाल बहादुर यादव, अमीम आलम, शिक्षिका रीणा कुमारी, नुजहत प्रवीन, श्वेता कुमारी सहित छात्रगण उपस्थित थे।

आरिफ आलम
वरीय संवाददाता,
चौसा, मधेपुरा

Spread the news

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें