रसोई गैस जलाने के क्रम में रेगुलेटर में लगी आग में झुलसकर महिला की मौत

Photo : www.therepublicantimes.coPhoto : www.therepublicantimes.co
728x90
Spread the news

छातापुर/सुपौल/बिहार : छातापुर थानाक्षेत्र के रामपुर पंचायत  स्थित वार्ड नंबर तीन में पिछले 12 जुलाई को रसोई गैस जलाने के क्रम में रेगुलेटर से लगी आग में झुलसकर गम्भीर रूप से जख्मी महिला का उपचार के दौरान शनिवार को मौत हो गई।

advertisement

बताया जाता है कि रूद्रानंद मिश्र की 48 वर्षीय पत्नी रिंकू देवी की मौत पटना स्थित अपोलो बोर्न हाॅस्पीटल में उपचार के दौरान शनिवार हो गई। घटना की सूचना मिलते ही परिजनों में हाहाकार मच गई, तथा परिजनों के चीखपुकार से गांव में भी कोलाहल मचा हुआ है। मृतक महिला के पति अपने परिवार के भरण पोषण के लिए मजदूरी करने  पंजाब के जलंधर गए हुए थे, जो घटना की सूचना पर पटना में इलाजरत पत्नी के पास शुक्रवार पहुंचा, लेकिन शनिवार को 11 बज के 20 मिनट में उनकी पत्नी की मौत हो गई। शनिवार संध्या महिला के शव को एंबुलेंस से पटना से छातापुर लाया गया, समाचार  प्रेषण तक छातापुर थाना पुलिस महिला के शव को पोष्टमार्टम के लिए सुपौल भेजने की तैयारी में जूटी हुई थी।

advertisement

परिजनों ने बताया कि बीते सोमवार की अपराह्न वह चाय बनाने के लिए किचन में गई, जहां गैसचुल्हा जलाने के क्रम में सिलेंडर के रेगुलेटर में आग लग गई, देखते ही देखते पुरे घर को आग ने अपनी चपेट में ले लिया, जिसमें महिला पुरी तरह से झुलसकर जख्मी हो गई, आनन फानन में उसे पूर्णिया के सदर अस्पताल में ले जाया गया, जहां गंभीर अवस्था को देखते हुए उसे भागलपुर मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया, फिर भागलपुर से भी महिला की नाजूक स्थिति को देखते हुए उसे पटना स्थित अपोलो बोर्न हाॅस्पीटल भेजा गया, जहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई।

बताया कि घटना को लेकर मुस्कान एचपी गैस एजेंसी के व्यस्थापक को लिखित जानकारी दी गई है। जिसके बाद गैस एजेंसी व्यवस्थापक द्वारा एचपी गैस वरीय अधिकारियों को घटना की सूचना दी गई। ततपश्चात स्वयं व्यस्थापक पवन हजारी ने मृतक के घर पहुंचकर वस्तु स्थिति का जायजा लेते हुए परिजनों से आवश्यक कागजात लेते हुए उन्हें उचित मुआवजा दिलाने का भरोसा दिलाया है।

रियाज खान
संवाददाता
छातापूर/सुपौल

Spread the news

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें