बीएनएमयू : विश्वविद्यालय के अतिथि सहायक प्राध्यापकों ने की लंबित वेतन भुगतान की मांग

Spread the news

मो० नियाज अहमद
ब्यूरो, मधेपुरा

मधेपुरा (बिहार) : भूपेंद्र नारायण मंडल विश्वविद्यालय के अतिथि सहायक प्राध्यापकों ने विगत मार्च माह से नवंबर तक नौ माह के लंबित वेतन भुगतान को लेकर सोमवार को विश्वविद्यालय मुख्यालय पहुंचकर एक शिष्टमंडल बीएनएमयू कुलपति प्रो डा आरकेपी रमन एवं कुलसचिव डा कपिलदेव प्रसाद यादव से मिलकर अपनी दयनीय हालात का हवाला देते हुए अविलंब वेतन भुगतान की मांग की. संघ ने मांग को लेकर एक आवेदन दिया. जिसपर कुलपति प्रो डा आरकेपी रमन ने त्वरित कार्रवाई करते हुए अविलंब वेतन भुगतान का आश्वासन दिया एवं सभी महाविद्यालय एवं स्नातकोत्तर विभागों को डिमांड भेजने को कहा. संघ ने कहा कि भूपेंद्र नारायण मंडल विश्वविद्यालय में पठन-पाठन का कार्य अधिकतर अतिथि सहायक प्राध्यापकों के सहारे ही चलता रहा है. अतिथि सहायक प्राध्यापकों की कार्यशैली शुरू से ही वर्ग संचालन के प्रति काफी अच्छा रहा है. विश्वव्यापी कोरोना संकट के लोकबंदी के समय से ही ये लोग  सरकार के निर्देशानुसार अपने अपने महाविद्यालयों के वेबसाइट पर एवं छात्रों के व्हाट्सएप ग्रुप पर ऑनलाइन मेटेरियल, ऑडियो-वीडियो के माध्यम से वर्ग संचालन करते आ रहे है. उन्होंने कहा कि बीते नौ माह से वेतन नहीं मिलने के कारण इन हम लोगों को अब दुकानदार उधार देना भी बंद कर दिया है. बच्चों का पठन-पाठन बाधित है. जिस कारण से हमलोगों की हालत काफी दयनीय हो गई है. जबकि हमलोगों के मांग पर सरकार द्वारा दुर्गा पूजा के पूर्व ही  वेतन का आवंटन भेज दिया गया है. बावजूद इसके अभी तक हम लोगों का वेतन लंबित रहना काफी दुखद है. संघ के विश्वविद्यालय संयोजक डॉ राजीव जोशी ने कहा कि सप्ताह भर में हम लोगों का लंबित मानदेय नहीं दिया जायेगा तो हमलोग आंदोलन करने पर उतारू हो जायेंगे. डा ब्रजेश कुमार सिंह ने कहा कि आवंटन आ जाने के बावजूद वेतन का नहीं मिलना दुखद है. डा राखी भारती, डा कोशल किशोर चौधरी एवं डा सबीर अहमद ने कहा कि हम लोग विधिवत वर्ग संचालन करते आ रहे हैं, फिर भी समय पर वेतन के नहीं मिलने से काफी दिक्कतें आती है. मौके पर संघ के डा शत्रुंजय झा, डा राघवेंद्र कुमार समेत अन्य अतिथि सहायक प्राध्यापक उपस्थित थे.


Spread the news
advertise

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें