मधेपुरा : मुरलीगंज में दुकानें खुलने पर आवागमन से जाम की समस्या हुई गंभीर   

728x90
Spread the news

मिथिलेश कुमार
संवाददाता
मुरलीगंज, मधेपुरा

मुरलीगंज/मधेपुरा/बिहार : बढते कोरोना मामले की रोकथाम को लेकर सप्ताह में चार दिन पूर्णतः लाॅक डाउन के बाद सोमवार को बाजार खुलते ही लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। जिस कारण मुख्य सड़क पर जाम की समस्या उत्पन्न होने से आम राहगीरों को काफी परेशानी हुई।                 

  शनिवार और रविवार बाजार की दुध एवं दवाई दुकानों को छोड़कर सभी तरह की दुकानें बंद थी। सडकों पर बड़े व छोटे वाहनों और आमलोगो की आवाजाही भी ना के बराबर रही। लेकिन सोमवार बाजार खुलते ही सभी तरह की दुकानें खुल गई। सडकों पर वाहनों और आमलोगो की आवाजाही और लगभग सभी तरह की दुकानों पर उमड़ी भीड़ ने लाॅक डाउन के सभी नियमों की धज्जियां उड़ा दी। मुख्य सड़क से लेकर शहर की सडकों और छोटी बड़ी सभी तरह की दुकानों पर दो गज की दूरी एवं मास्क लगाने के प्रति लोग बेपरवाह रहे। शहर के दुर्गा स्थान चौक से बैंगा पुल तक और गोलबाजार में जाम की समस्या से लोग जूझते रहे।

बता दें कि नगर पंचायत क्षेत्र में बढते कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखते हुए पदाधिकारी, जनप्रतिनिधि, व्यवसायी और समाजिक लोगों ने सर्वसम्मति से सप्ताह में तीन दिन दुकानें खोलने का निर्णय लिया। बांकी चार दिन पूर्णतः लाॅक डाउन के रखने पर सहमति प्रदान की गई थी। लेकिन सोमवार को बाजार में उत्पन्न भीड़ को देखकर ऐसा लगता है कि लोग कोरोना के प्रति लापरवाह हो गए हैं। सवाल यह है कि ऐसे में प्रशासन भी क्या करे। जबकि प्रशासन द्वारा समय समय पर सख्ती भी बरती जाती है। फिर लोग अपनी आदतों से बाज नहीं आ रहे हैं।


Spread the news