नालंदा : स्नातक अधिकार मंच ने की बैठक

Spread the news

मुर्शीद आलम
नालंदा ब्यूरो
बिहार

नालंदा/बिहार : जिले के इस्लामपुर प्रखंड में स्नातक अधिकार मंच की ओर से बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में उपस्थित स्नातक मतदाताओं ने सर्वसम्मति से विचार व्यक्त करते हुए कहा कि इस बार स्नातक विधान पार्षद के चुनाव में हम लोग तन-मन-धन से स्नातक विधान पार्षद प्रत्याशी दिलीप कुमार को अपना एक-एक मत देकर सदन भेजने का काम करेंगे।

स्नातक अधिकार मंच के संयोजक सह जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष दिलीप कुमार ने स्नातक मतदाताओं को संबोधित करते हुए कहा कि इस बार का चुनाव सीधे तौर पर दो धुरियों का चुनाव है, एक तरफ वैसे प्रत्याशी हैं जो स्नातकों का वोट लेकर सिर्फ उन्हें ठगने का काम किए हैं, वर्तमान स्नातक के प्रतिनिधि विगत 12 वर्षों में ना ही कभी सदन में और ना ही कभी सड़क पर अपने स्नातक वोटरों की आवाज उठाई है, आज सबसे अधिक दयनीय स्थिति बेरोजगार स्नातकों की है, जो पढ़ लिख कर भी बेरोजगार बैठे हैं।

 दिलीप कुमार ने कहा उनका उद्देश सिर्फ चुनाव जीतना ही नहीं बल्कि पूरे राज्य के स्नातकों को एकजुट कर एक बड़ा आंदोलन खड़ा करना है। स्नातक अपने हक की लड़ाई इस बार खुद लड़ने को तैयार हैं आज सारे स्नातक मतदाता अपने आप को ठगा महसूस कर रहे हैं।  दूसरी तरफ उन्होंने चर्चा करते हुए कहा पटना स्नातक क्षेत्र की संरचना के हिसाब से सबसे अधिक वोटरों की संख्या पिछड़ों दलितों एवं अल्पसंख्यकों की है, पूर्व के जो भी पार्षद इनका वोट लेकर बने हैं, उनके द्वारा कहीं भी इन समाज के लोगों के बीच इनके गांव में आज तक एक रुपया भी इस फंड का खर्च नहीं किया गया है।

उन्होंने साफ शब्दों में कहा यह चुनाव पिछले चुनावों से हटकर होगा वैसे भी वोटरों की संख्या के हिसाब से इस सीट पर पिछड़ा दलित का अधिकार बनता है ,पूर्व में जो भी विधान पार्षद हुए, उन्होंने इस समाज की उपेक्षा ही की है।

बैठक के बाद इस्लामपुर बाजार के साथ-साथ पंचायतों के कई गांव में जाकर जनसंपर्क अभियान भी चलाया गया इस जनसंपर्क अभियान में इस्लामपुर प्रखंड के राजीव कुमार, गुड्डू कुमार, नवप्रभात प्रशांत, टिंकू कुमार, सर्वेश कुमार, सनी पटेल, पंकज कुमार, मुकेश कुमार, आशीष गुप्ता, दीपेश कुमार, अमरकांत कुमार, रवि रंजन कुमार के अलावे दर्जनों कार्यकर्ता साथ में चल रहे थे।


Spread the news
advertise