मधेपुरा : स्वच्छ भारत अभियान के तहत “स्वच्छता ही सेवा” के विषय पर सेमिनार का आयोजन

728x90
Spread the news

अमित कुमार
उप संपादक

मधेपुरा/बिहार : जिला मुख्यालय स्थित टीपी कॉलेज में बुधवार को स्वच्छ भारत अभियान के तहत स्वच्छता ही सेवा पर सेमिनार का आयोजन महाविद्यालय के एनसीसी एवं एनएसएस के द्वारा किया गया।

कार्यक्रम का उद्घाटन महाविद्यालय के प्राचार्य डा केपी यादव, एनएसएस प्रभारी उपेंद्र प्रसाद, एनसीसी एएनओ गुड्डू कुमार, 17 बिहार बटालियन एनसीसी सहरसा के नायक सूबेदार गजराज सिंह, हवलदार जीएस राठौर ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया।

मौके पर उपस्थित एनसीसी कैडेटों एवं एनएसएस के स्वयंसेवकों को संबोधित करते हुए प्राचार्य ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 2014 में प्रधानमंत्री बने और स्वच्छ भारत अभियान को अमली जामा पहनाया। उन्होंने इस योजना को गांधी जयंती के अवसर पर शुरू किया था तथा 2019 के गांधी जयंती के अवसर पर इसे समाप्त भी किया जाएगा। भारत वर्ष में इस योजना का क्रियान्वयन शिक्षण संस्थान एवं विभिन्न संस्थानों के द्वारा किया गया। उन्होंने कहा कि सफाई किसे पसंद नहीं है। सफाई सभी लोगों को पसंद है। सपा में वफ़ा है और गंदा करना पाप है। यह स्लोगन हमें बचपन से सिखाया जाता है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने 2014 में इस योजना की शुरुआत की लेकिन उन्होंने 2009 में ही पार्वती विज्ञान महाविद्यालय में महाविद्यालय के बाहर तो नहीं मगर महाविद्यालय के अंदर महाविद्यालय के एनसीसी एनएसएस एवं अन्य छात्र छात्राओं के द्वारा महाविद्यालय को साफ रखने का अभियान चलाया था और जो पूरा भी हुआ। परिणाम ऐसा हुआ कि महाविद्यालय परिसर किसी के आवासीय परिसर से कई गुना ज्यादा साफ हो गया। उन्होंने कहा कि अगर हर व्यक्ति सिर्फ अपने आसपास सफाई रखने की ठान ले तो कहीं भी गंदगी दिखाई नहीं देगी और जिस काम को करने में हमें वर्षों लग रहा है, वह कुछ मिनटों में हो जाएगा।

उन्होंने महाविद्यालय के छात्रों को कहा कि सभी छात्र सिर्फ यह सोच लें कि उनके आसपास की फैली हुई गंदगी को हटाना है तो महाविद्यालय परिसर में कहीं भी गंदगी दिखाई नहीं देगी। प्राचार्य ने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति यह ठान ले कि मैं जहां हूं, जिस परिसर में हूं उस स्थान को उस परिसर को साफ रखना है तो शायद हमें इस अभियान को चलाने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

मौके पर एनसीसी कैडेट सीनियर एसयूओ सोनू कुमार संगम, यूओ रितेश राज, यूओ सौरभ कुमार, अमरदीप कुमार सहित अन्य एनसीसी एवं एनएसएस के छात्र छात्राएं उपस्थित थे।