दरभंगा : पर्व को लेकर लहेरियासराय थाना में हुई शांति समिति की बैठक तो जाले में निकाला गया फ्लैग मार्च

Spread the news

ज़ाहिद  अनवर (राजु)
उप संपादक

दरभंगा/बिहार : अपर समाहर्ता मोबिन अली अंसारी ने लहेरियासराय थाना परिसर में आयोजित शांति समिति की बैठक को संबोधित करते हुए कहा की यहाँ लोगों में आपसी प्रेम व सौहार्द को देखकर हम इसके कायल हो गए। शांति व आपसी समझ ही यहां की पहचान है। यहां के लोग कभी सांप्रदायिकता को पनपने नहीं देंगे। इस मौके पर सदर एसडीओ, सदर डीएसपी और लहेरियासराय थाना अध्यक्ष मौजूद थे।

आयोजित बैठक में पहुंचे लोगों ने प्रशासन को आश्वस्त किया कि वे लोग हर स्तर से सहयोग करेंगे। थानाध्यक्ष ने कहा कि मुहर्रम कमेटी की यह जिम्मेवारी बनती है कि लाइसेंस के रास्ता से ही जुलूस लेकर चलेंगे। किसी भी कीमत पर रास्ता परिवर्तन नहीं होगा। बैठक में यह निर्णय लिया गया कि गणपति विसर्जन 20 सितंबर की सुबह 10 बजे तक कर लिया जाएगा ताकि मोहर्रम की जुलूस आसानी से निकल सके। बैठक में मुहर्रम, विश्वकर्मा पूजा एवं गणेश पूजा में शांति बहाल रखने का निर्णय लिया गया।

बैठक में मोहर्रम कमेटी के सचिव रुस्तम कुरेशी, नारद यादव, तमन्ना, मुन्नी देवी, अशोक नायक, रीता सिंह, श्याम किशोर प्रधान, सुनीति रंजन दास, अजय जलान ने भी अपने विचार रखें। उधर जाले प्रखंड क्षेत्र में विश्वकर्मा पूजा व मोहर्रम में असामाजिक तत्वो में भय उत्पन्न करने व आम जनता में शांति व्यवस्था बनाए रखने को लेकर पुलिस निरीक्षक उमेशचन्द्र तिवारी के नेतृत्व मेंं व थानाध्यक्ष उमेश कुमार, सिंघवाड़ा थानाध्यक्ष सत्यप्रकाश झा, कमतौल थानाध्यक्ष कुन्दन कुमार आदि द्वारा सोमवार को जाले, घोराहा मजरा, गर्री, देउरा बंधौली, धमाद, काजी बहेरा, नागरडीह, राढ़ी, बंशी चौक, कदम्बचौक कछुवा आदि गांवों में फ्लैग मार्च किया।


Spread the news
advertise