मधेपुरा : जिला क्रिकेट लीग, 26 वें दिन साहुगढ़ क्रिकेट क्लब बनाम सिंहेश्वर 11 स्टार क्रिकेट क्लब बीच मैच खेला गया

728x90
Spread the news

अमित कुमार
उप संपादक

मधेपुरा/बिहार : जिला क्रिकेट संघ के तत्वाधान में जिला क्रिकेट लीग 2018-19 के 26 वें दिन सोमवार को बीएन मंडल स्टेडियम में साहुगढ़ क्रिकेट क्लब बनाम सिंहेश्वर 11 स्टार क्रिकेट क्लब के बीच मैच खेला गया।

मुख्य अतिथि के रूप में बीएनएमयू के जंतु विज्ञान के एचओडी डा अरुण कुमार ने खिलाड़ियों से परिचय प्राप्त कर खेल का शुभारंभ किया, जिसमें टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए साहुगढ़ क्रिकेट क्लब ने सभी विकेट खोकर 160 रन बनाए वहीँ आयन कुंवर 57 रन और गणपति 26 रन बनाए।  सिंहेश्वर के गेंदबाज सुशील झा पांच विकेट और मुकेश दो विकेट लिए।

जवाब में सिंहेश्वर की टीम यह मैच तीन विकेट से जीत लिया। जिसमें नीरज 35 रन, सलाम 38 रन और सुशील झा 21 रन बनाए, साहुगढ़ के गेंदबाज सावन तीन विकेट, भोला दो विकेट और सनी दो विकेट लिए। निर्णायक की भूमिका में अमरनाथ और वसीम थे, स्कोरर अमन कुमार थे।

वहीं टीपी कॉलेज के मैदान पर सघुवा क्रिकेट क्लब बनाम नेहाल पट्टी क्रिकेट क्लब के मैच खेला गया। मुख्य अतिथि के रूप में सिंहेश्वर के जिला पार्षद प्रतिनिधि सह समाजसेवी पिंटू यादव ने खिलाड़ियों से परिचय प्राप्त कर मैच को शुभारंभ करवाया और दोनों टीम को शुभकामनाएं दिये।

नेहाल पट्टी ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए सभी विकेट खोकर 99 रन बनाए, जिसमें रणधीर 20 रन, चंदन 19 रन और मनीष 16 रन बनाए, सघुवा के गेंदबाज किशन चार विकेट, बादल तीन विकेट और आनंद दो विकेट लिए। जवाब में खेलने उतरी सुघवा की टीम पांच विकेट से यह मैच जीत लिया।

जिसमें आनंद 25 रन, बादल 20 रन और विनय नाबाद 24 रन बनाए, नेहाल पट्टी के गेंदबाज रणधीर एक विकेट और पवन एक विकेट लिए. निर्णायक की भूमिका में आलोक और सूरज थे, स्कोरर अमरदीप साह थे।

मौके पर हर्ष प्रकाश, रोशन आनंद, जॉन गुप्ता, जिसान, अमरदीप, लीग संयोजक संजीव कुमार, भानु प्रताप, गोपी कृष्ण, एवं समस्त खिलाड़ी मौजूद थे।

 सचिव अमित कुमार ने बताया कि मंगलवार को बीएन स्टेडियम में पहला सेमीफाइनल मैच एचपी फाउंडेशन बनाम घुरगॉव क्रिकेट क्लब के बीच मैच खेला जाएगा. जबकि दूसरा सेमीफाइनल नौ जनवरी खेला जाएगा. समापन समारोह जिला क्रिकेट संघ के तत्वाधान में 10 जनवरी को बीएन मंडल स्टेडियम में ऐतिहासिक रूप से किया जाएगा। चयनित खिलाड़ी का 15 दिन का प्रशिक्षण शिविर भी लगाया जाएगा. जिसमें कई तरीके से टिप्स भी दिये जाएंगे. आवश्यकता पड़ने पर बाहर से भी प्रशिक्षक को बुलाया जा सकता है।


Spread the news