वैशाली : जिलाधिकारी से बुनियाद संजीवनी सेवा (मोबाइल थेरेपी वैन) की जांच की मांग  

728x90
Spread the news

वैशाली से मो० नदीम रब्बानी की रिपोर्ट

वैशाली/बिहार ; भाजपा वैशाली जिला अध्यक्ष क्रीड़ा मंच हरेश कुमार सिंह  ने जिला पदाधिकारी वैशाली को एक ज्ञापन देकर हाजीपुर स्थित बुनियाद संजीवनी केंद्र एवं मोबाइल थेरेपी वैन की गहन जांच कराने की मांग करते हुए कहा कि बिहार सरकार के समाज कल्याण विभाग की ओर से बिहार समेकित सामाजिक सुरक्षा सुदृढ़ीकरण परियोजना के तहत बुनियाद संजीवनी सेवा समाज के दबे कुचले लोगों की सहायता को लक्षित कर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार एवं उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी द्वारा वर्ष 2017 में शुभारंभ किया गया था जिसमें दिव्यांग जनों, वृद्धजनों एवं विधवाओं के लिए सामाजिक सुरक्षा और देखभाल सेवा मोबाइल थेरेपी वैन एवं जिला व अनुमंडल स्तर पर बुनियाद केंद्र का संचालन जरूरतमंद समुदाय को सुविधाओं से जोड़ने, घर बैठे दिव्यांग प्रमाण पत्र सहित सरकारी सहायता पहुंचाने के लिए किया गया था ।

हाजीपुर अनुमंडल में संचालित संजीवनी बुनियाद केंद्र एवं मोबाइल थेरेपी वैन दिव्यांग जनों को सहयोग करने के बदले सरकारी राशि का दुरुपयोग एवं लापरवाही पूर्ण रवैया अपनाकर दिव्यांग जनों को जिला पदाधिकारी से हस्ताक्षर कराकर लाने के नाम पर प्रताड़ित करने का कार्य करते हैं एवं दिव्यांग जनों को बुलाकर सिर्फ कागजी खानापूर्ति करने में ज्यादा विश्वास रखते हैं एवं दिव्यांग जनों को विभिन्न प्रकार के प्रमाण पत्र की मांग करते हैं तथा बिना किसी प्रकार का फॉर्म या कागजात दिए जिला पदाधिकारी का हस्ताक्षर कराकर लाने को कहते हैं

भाजपा वैशाली जिला अध्यक्ष क्रीड़ा मंच हरेश कुमार सिंह ने कहा कि दिव्यांग जनों के व्यापक हित को देखते हुए हाजीपुर स्थित बुनियाद केंद्र एवं संचालित मोबाइल वैन की कार्य कुशलता की जांच अपने स्तर से कराते हुए पदस्थापित जिम्मेवार पदाधिकारी के ऊपर उचित कार्रवाई कर दिव्यांग जनों को मदद पहुंचाने की समुचित व्यवस्था की जाए ।


Spread the news