मधेपुरा : आयूष हत्याकांड के मुख्य अभियुक्त सहित क्लीनिक में तोड़फोड़ करने के मामले में जाप छात्र नेता को गिरफ्तार कर भेजा गया जेल

728x90
Spread the news

आयूष हत्याकांड का मुख्य अभियुक्त जय प्रकाश यादव खगड़िया से गिरफ्तार # 25 दिन बाद पुलिस ने बड़े ही नाटकीय ढंग से किया गिरफ्तार # जमीन विवाद में सुला दी गई मासूम आयुष को मौत की नींद # मोबाइल सर्विलांस के आधार पर पुलिस ने की गिरफ्तारी

प्रेमजीत कुशवाहा
 संवाददाता
उदाकिशुनगंज, मधेपुरा

उदाकिशुनगंज/मधेपुरा/बिहार : अनुमंडल में बढ रहे अपराध पर लगाम लगाने के लिए पुलिस बड़ा अभियान चला रही है । आलमनगर थाना क्षेत्र के आयुष हत्याकांड के मामले में पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। आलमनगर के बजराहा गांव के स्कूली छात्र मासूम आयूष हत्याकांड में जहां 11 दिन बाद बड़ा खुलासा हुआ और इस घटना के मास्टरमाइंड सहित चार अभियुक्तों की गिरफ्तारी पूर्व में हो चुकी है। वहीं इस घटना के मुख्य अभियुक्त जयप्रकाश यादव को खगड़िया जिला से गिरफ्तार किया गया। एसडीपीओ सीपी यादव ने बताया कि आयूष की हत्या जमीन विवाद में हुई। उन्होंने बताया कि हत्याकांड के मास्टरमाइंड अशोक यादव को पूर्व में ही गिरफ्तार किया जा चुका है जबकि मुख्य अभियुक्त को रविवार की रात खगड़िया जिले से गिरफ्तार कर लिया गया।

एसडीपीओ ने बताया कि अभियुक्तों ने शातिराना अंदाज में घटना को अंजाम दिया। एसडीपीओ ने बताया कि इस घटना के मास्टरमाइंड अशोक यादव और सुरेश मेहता के बीच वर्षों से जमीन का विवाद चल रहा था। जमीन विवाद को लेकर दोनों के बीच पहले भी कई बार विवाद हो चुका है। कटिहार में बैंक में पदस्थापित रहते हुए अशोक यादव और जय प्रकाश यादव ने शातिराना अंदाज में घटना को अंजाम दिया। एसडीपीओ ने बताया कि मोबाइल सर्विलांस के आधार पर जयप्रकाश यादव की गिरफ्तारी संभव हो पाया। पिछले 25 दिनों से पुलिस टीम जयप्रकाश यादव की गिरफ्तारी में लगे हुए थे। जहां रविवार को पुलिस को कामयाबी मिली।

एसडीपीओ ने बताया कि पूछताछ के दौरान जयप्रकाश यादव ने हत्याकांड में संलिप्तता स्वीकार कर ली है। एसडीपीओ ने बताया कि आयूष हत्याकांड में शामिल तीन आरोपियों को उसी समय गिरफ्तार कर लिया गया था। उन्होंने कहा कि इस घटना में शामिल अन्य लोगों की भी जल्द गिरफ्तारी होगी।

वहीं इस अभियान के दौरान उदाकिशुनगंज थाना मुख्यालय पटेल चौक स्थित डॉ पी के रंजन के क्लीनिक में तोड़फोड़ करने के आरोपी छात्र नेता मनखुश कुमार मिश्रा को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। जबकि क्लिनिक में तोड़फोड़ के मामले में पहले भी जाप छात्र नेता रणधीर यादव और निष्ठु दीवान की गिरफ्तारी हो चुकी है। जो फिलहाल जमानत पर जेल से बाहर आ गए हैं।

डीएसपी सी पी यादव ने बताया कि अनुमंडल क्षेत्र के ऐसे सभी अपराधियों की और आरोपियों की धर पकड़ जारी है जो बिना जमानत खुलेआम घूम रहे हैं। विशेष गठित टीम के तहत छापेमारी अभियान की जा रही है। पुलिस अपराध पर नियंत्रण लगाने को कटिबद्ध है।

मौके पर एसडीपीओ सीपी यादव, आलमनगर थाना अध्यक्ष राजेश कुमार, उदाकिशुनगंज थानाध्यक्ष ललितेश्वर पांडेय मौजूद थे ।

 

उदाकिशुनगंज में हत्याकांड उदभेदन की जानकारी देते एसडीपीओ सीपी यादव व थानाअध्यक्ष साथ में गिरफ्तार आरोपी


Spread the news