मधेपुरा : आंगनबाडी सेविका-सहायिका ने आक्रोश मार्च निकाल कर समाज कल्याण मंत्री का पुतला फूंका

728x90
Spread the news

मुजाहिद आलम
संवाददाता
कुमारखंड, मधेपुरा

कुमारखंड/मधेपुरा/बिहार : बिहार राज्य आंगनवाडी संयुक्त संघर्ष समिति के आह्वान पर 15 सूत्री मांगों को लेकर सेविका साहयिकाओं का अनिश्चितकालीन हड़ताल आज भी जारी रहा, इस दौरान प्रखंड बाल विकास परियोजना कार्यालय परिसर में सेविका, साहयिकाओं ने एसएच 91 पर आक्रोश जुलूस निकाला कर प्रखंड मुख्यालय के मुख्य द्वार के सामने बिहार सरकार के समाज कल्याण विभाग के मंत्री कृष्ण नंदन वर्मा का पुतला फूंका। आक्रोश मार्च की अध्यक्षता सेविका संघ की प्रखंड अध्यक्ष किरण कुमारी  एवं सचिव आरूती कुमारी द्वारा किया गया।

जिला सचिव कुमारी नीलम ने कहा कि सरकार हमारी मांगे पूरी करें। सेविका, साहयिका को सरकारी कर्मचारी का दर्जा देते हुए। सेविकाओं को 18 हजार और सहायिका को 12 हजार मानदेय दिया जाये। आज सरकार आंगनवाड़ी सेविका/ सहायिका के कंधों पर समाज के नॉनहाल को सजाने एवं संवारने के साथ साथ गर्भवती एवं धात्री माताओं को पोषित करने की सारी जिम्मेदारी है सेविकाओं को सरकार दे रखी है। आज आंगनवाड़ी सेविका/ सहायिका को खुद सरकारी कुपोषण की शिकार है। जब तक हमारी 15 सूत्री  मांगें पूरी नहीं होगी तब तक हमारी लड़ाई जारी रहेगी। जिला सचिव ने बताया कि संघ के आह्वान पर सरकार के खिलाफ सेविका/ सहायिका आगामी 8 एवं 9 जनवरी 2019 को जिला मुख्यालय में चक्का जाम किया जायेगा।

मौके के पर सुनीता कुमारी, पूनम कुमारी, सीता देवी, रेणु कुमारी, सविता देवी, नीलम कुमारी, मीरा कुमारी तहविला खातून, तरन्नुम खानम, आरती कुमारी, सरिता कुमारी, मीनू कुमारी, नीलू कुमारी, रेनू कुमारी, सबा इमाम, रोशन खातून, शारदा खातून साहित अन्य सेविका सहायिका मुख्य रूप से मौजूद थी।


Spread the news