वैशाली : हजीपुर में सात दिन के अंदर अपराधियों द्वारा कई हत्याओं को अंजाम देने के बाद पुलिस आई हरकत में, दो को किया गिरफ्तार

728x90
Spread the news

नसीम रब्बानी
ब्यूरो चीफ
वैशाली

वैशाली/बिहार : वैशाली जिला पुलिस द्वारा दो कुख्यात अपराधियों को गिरफ्तार करने के बाद पुलिस ने अन्य की गिरफ्तारी हेतु अभियान तेज़ कर दिया है, गिरफ्तार अपराधियों के पास से 23 किलो गांजा और दो लोडेड हथियारों समेत अन्य आपत्तिजनक समान बरामद हुई है । मिली जानकारी अनुसार मारुती वाहन से भ्रमण कर किसी बड़े कांड को अंजाम देने के फिराक में थे दोनों अपराधी। हाजीपुर में सात दिनों में तीन बड़े हत्याकांडों को अपराधियों द्वारा अंजाम दिए जाने से बौखलाई वैशाली पुलिस को बड़ी सफलता मिली है, हालांकि अभी दो कुख्यात अपराधियों की गिरफ्तारी के बाद भी पुलिस महकमें में शांति नही दिख रही। छापेमारी तेज़ कर अन्य अभियुक्तों की गिरफ्तारी को लेकर भी पुलिस सक्रियता से कार्य कर रही है।

प्रेस वार्ता के क्रम में अपर पुलिस अधीक्षक महेंद्र कुमार बसन्त्री ने मीडियाकर्मियों को यह जानकारी दी, साथ ही गिरफ्तार अपराधी अरशद आलम और अपराधी कृष्णमोहन कुमार उर्फ रूदल राय के आपराधिक इतिहास पर भी विस्तार से प्रकाश डाला। एएसपी श्री बसन्त्री ने बताया कि दोनों को बीती देर रात स्थानीय अनवरपुर चौक के समीप से मारुति वाहन, जिसका नम्बर बीआर 31आर-9493 है, के अलावा 23 किलो गांजा, दो लोडेड आग्नेयास्त्र, दो 7.65 एमएम का जिंदा कारतूस और दो मोबाइल के साथ गिरफ्तार किया है। पूछताछ के क्रम में अपराधकर्मी रूदल ने पुलिस के समक्ष कई चर्चित कांडों में अपनी संलिप्तता स्वीकार की है। अपराधी रूदल (23) सदर थाने के इस्माईलपुर हरौली निवासी राजकुमार राय का पुत्र बताया गया है, वहीं कुख्यात अरशद (25) नगर थाने के बागदुल्हन निवासी इजहार आलम उर्फ मजनू का पुत्र बताया गया है।

रूदल ने राजस्थान के कोटा में सोना लूटकांड, जेल कक्षपाल दीपनारायण राय लालपोखर हत्या कांड और मार्बल व्यव्सायी सुशील सिंह हत्या कांड में अपनी संलिप्तता पुलिस के समक्ष स्वीकार किया है। दोनों के पास से दो मोबाइल भी पुलिस ने बरामद किया है। अपर पुलिस अधीक्षक हाजीपुर श्री बसन्त्री ने प्रेस वार्ता में बताया कि दोनों को मारुति वाहन से स्टेशन रोड के समीप भ्रमण करने और किसी बड़े कांड को अंजाम देने की गुप्त सूचना मिली थी। पुलिस अधीक्षक मानवजीत सिंह ढिल्लो के निर्देशन में अपर पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व में अन्य पुलिस अधिकारियों के सहयोग से दोनों को अनवरपुर चौक के समीप से वाहन और अन्य आपत्तिजनक सामानों के साथ धर दबोचा गया। साथ ही उन्होंने बताया कि अन्य अभियुक्तों की गिरफ्तारी को लेकर भी छापेमारी तेज़ कर दी गई है।

मामले को लेकर नगर थाना कांड संख्या 923/18 दर्ज किया गया है। शस्त्र अधिनियम की धारा 25 (1-बी )ए /26 /35 और 8 ( 20 बी) (11) (11 सी ) एनडीपीएस एक्ट एवं भादवि की धारा 414 के तहत कार्रवाई की जाएगी।।


Spread the news