दरभंगा :  पंचायत समिति की बैठक में शिक्षा विभाग, मनरेगा पर भ्रष्टाचार का मुद्दा छाया रहा

728x90
Spread the news

मनीगाछी से पंकज कुमार की रिपोर्ट

मनीगाछी/दरभंगा/बिहार : ग्रामसभा से पारित योजना का अनुमोदन व मनरेगा योजना से संबंधित वार्षिक बजट का अनुमोदन करने के लिए गुरूवार को पंचायत समिति की बैठक हंगामेदार रही। आरोप प्रत्यारोप के बीच कई प्रस्ताव ध्वनि मत से पारित किया गया।

प्रखण्ड मुख्यालय स्थित न्यू सभागार भवन में प्रमुख पवन कुमार यादव की अध्यक्षता व संचालन पीओ धर्मेन्द्र कुमार के द्वारा किया गया। कई सदस्यों का नाराजगी इस बात का भी था कि बैठक में उठाया गया मुदा का अनुपालन नहीं होने से बैठक महज खानापुर्ति बनकर रह गया है। पंचायत समिति की बैठक से कई अधिकारी गायब रहने से कार्य की समीक्षा नहीं होती है। बैठक में मनरेगा व शिक्षा विभाग में व्यापत भ्रष्टाचार का मुद्दा छाया रहा। पंचायत समिति सदस्य राम सुकमार यादव नें मनरेगा योजना के द्वारा दर्जनों योजनावार उल्लेख करते हुए एक ही योजना पर नाम बदल बदल कर बिना बोर्ड लगाए योजना चलाने का गम्भीर आरोप लगाने के जवाब में पीओ ने जांच करवाने की बात कही। लेकिन आज तक किसी भी योजना गड़बड़ी को लेकर धरातल पर जाँच कभी नही हुआ और न होता है। सिर्फ और सिर्फ आशवासन ही मिलता है। क्या एक भी ऐसी योजना को जिसको सही-सही जाँच किया गया हो नही ये लोग जाँच तो करते है पर धरातल नही सिर्फ कागज किया जाता है?

बाजितपुर पंचायत में मनरेगा के तहत कई योजना का कार्य किया गया है जगह पर बोर्ड तो लगा दिया है पर कार्य किस योजना के तहत किया गया है, किस साल की है, उसकी राशि कितनी है कुछ नही लिखा गया है। जब इसकी जानकारी मुखिया पति से की तो उन्होंने कहा बहुत जल्द लगा लिखा दिया जाऐगा लेकिन नही लगाया। मनरेगा में मजदूर के द्वारा करवाना चाहिए लेकिन अपना-अपना जेसीबी से कार्य कर रहे है और अपने लोगो का जाॅब कार्ड बनवाकर पैसा निकासी कर रहे है। जो लोग जाॅब कार्डधारी है उस मजदूर को पेट पर इनलोगो ने लात मार दी है।तब अधिकारी कहते है कि जाँच किया जाऐगा। अब देखना है कि क्या सही में योजना की जाँच होगी या सिर्फ हवा-हवाई बनकर रह जाएगी? पंचायत समिति सदस्य अल्पना देवी ने अभी तक किसी भी विभाग का कमिटि का गठन न होने का मुदा उठाया।मुखिया दीपिका नायक ने कहा कि हर वर्ष श्रम बजट व वार्षिक कार्य योजना कार्य नहीं होने की बात कही।

उप प्रमुख यशोदानन्द झा, सांसद प्रतिनिधि प्रकाश चन्द्र मिश्र पप्पू, सदस्य सुनीता देवी, मुखिया शंकर कुमार मिश्र, रीता देवी, रजी आलम, कैलाश सहनी, अशोक साहु सहित कई सदस्यों ने बहस में भाग लिया। मौके पर बीडीओ मनोज कुमार राय, सीओ रविन्द्र कुमार चौपाल, बीएओ दिनेश झा, जेई मुकेश कुमार, पीएचसी प्रभारी डॉ मोहन झा सहित कई लोग मौजूद थे।


Spread the news