मधेपुरा : डीडीओ की लापरवाही से 143 विधालय के 35495 छात्र-छात्राएँ छात्रवृत्ति, पोशाक और नैपकिन की राशि से वंचित

728x90
Spread the news

प्रेमजीत कुशवाहा
 संवाददाता
उदाकिशुनगंज, मधेपुरा

बिहार सरकार मद से दी जाने वाली छात्रवृत्ति राशि, पोशाक राशि और नैपकिन की राशि विभाग ने डीडीओ के खाता में  फरवरी 2018 को हीं भैज दियाबर्ष 2017/18 का छात्रवृत्ति राशि, पोशाक राशि और नैपकिन की राशि प्रखंड के किसी भी विद्यालय को डीडीओ नहीं भैजामार्च 2018 में विद्यालय को राशि नहीं भैजने के एवज में  डीडीओ को निलंबित भी किया जा चुका है, निलंबन समाप्त होने के बाद भी राशि विद्यालय शिक्षा समिति के खाते में अब तक नहीं पहुँचीविद्यालय के छात्र-छात्राएँ आक्रोशित होकर कई विद्यालय में कर चुके हैं हंगामा और तालाबंदी

उदाकिशंगंज/मधेपुरा/बिहार : उदाकिशुनगंज प्रखंड में डीडीओ की लापरवाही से कुल 143 विधालय के 35495 छात्र-छात्राएँ छात्रवृत्ति राशि, पोशाक राशि और नैपकिन की राशि से वंचित है। जबकि बिहार सरकार मद से दी जाने वाली छात्रवृत्ति राशि, पोशाक राशि और नैपकिन की राशि विभाग ने डीडीओ के खाता में फरवरी 2018 को हीं भेंज दिया था। बर्ष 2017/18 का छात्रवृत्ति राशि, पोशाक राशि और नैपकिन की राशि प्रखंड के किसी भी विद्यालय को डीडीओ नहीं भेजा। मार्च 2018 में विद्यालय को राशि नहीं भेंजने के एवज में तत्कालीन डीपीओ नसीम अहमद ने डीडीओ सत्येन्द्र पासवान को निलंबित भी कर चुका है। अगस्त 2018 में आरोप निराधार बताकर निलंबन समाप्त कर देने के बावजुद भी राशि विद्यालय शिक्षा समिति के खाते में अब तक नहीं पहुँची है। विद्यालय के छात्र-छात्राएँ आक्रोशित होकर कई विद्यालय में हंगामा कर चुके हैं और तालाबंदी भी कर चुका है।                            जानकारी अनुसार सर्व शिक्षा अभियान के द्वारा भेजी जाने वाली राशि विद्यालय शिक्षा समिति के खाते में जनवरी 2018 में पहुँच गई थी। पर बिहार सरकार मदद से दी जाने वाली राशि डीडीओ द्वारा नही भेजे जाने के कारण अभी तक सर्व शिक्षा मद का राशि भी विधालय शिक्षा समिति के खाता में पड़ी हुई है। जानकारी अनुसार बिहार सरकार मद से छात्रवृत्ति कि राशि 1से 4 वर्गों के प्रत्येक छात्र-छात्राओं को 6 सौ रुपये 5 से 6 वर्गों के प्रत्येक छात्र-छात्राओं को 1200 सौ रुपये 7 से 8 वर्गों के प्रत्येक छात्र-छात्राओं को 1800 सौ रुपये दी जानी थी। वहीं बिहार सरकार मद से पोशाक राशि 1से 2 वर्गों के प्रत्येक छात्र-छात्राओं को 4 सौ रुपये, 3 से 5 वर्गों के प्रत्येक छात्र-छात्राओं को 5 सौ रुपये और 6 से 8 वर्गों के प्रत्येक छात्राओं को 700 व 6 से 8 वर्गों के प्रत्येक छात्रों को 300 रुपये बिहार सरकार मद से और सर्व शिक्षा मद से 400 रुपये दोनों मद से मिलाकर कुल 700 रूपये दी जानी थी। पर विभागीय लापरवाही और डीडिओ की मनमानी के चलते अभी भी विद्यालय के सभी बच्चे छात्रवृत्ति राशि, पोशाक राशि और नैपकिन राशि से वंचित है।

डीडीओ सत्येंद्र पासवान ने बताया कि तत्कालीन डीपोओ नसीम अहमद अपने कार्यालय का रंग रोगन करवा रहा था। कार्यालय दुरुस्त करने के नाम पर जिले के सभी डीडीओ से 10-10 हजार रुपये का मांग किया। मुझसे भी मांगा गया हमने रुपये देने से इंकार कर दिया, जिसके चलते हमको निलंबित कर दिया गया। हमारे निलंबन के बाद बीईओ बिंदेश्वरी साह को डीडीओ का प्रभार मिल गया। फिर अगस्त 2018 में हमारा निलंबन समाप्त होने के बाद डीडीओ का प्रभार हमें वापस मिला तो हमने अक्टूबर 2018 को विद्यालय शिक्षा समिति के खाते में राशि भैजने हेतु बैंक में एडभाइस जमा करा दिया हुँ। बैंक मैनैजर की लापरवाही से अभी तक विद्यालय शिक्षा समिति के के खाते में राशि नहीं पहुँच पाई है।

 उदाकिशुनगंज प्रखंड को सभी कोटी के लिए वर्ष 2017/18 में फरवरी में 1,56,40,000 का आवंटन प्राप्त हुआ! इसमें से डीडियो ने एक करोड़ 31 लाख 76 सौ की निकासी भी कर ली थी। बावजूद छात्रों तक राशि का नहीं पहुंचना लापरवाही को दर्शाता है। सभी विद्यालय के प्रधान शिक्षकों की माने तो अभी तक विद्यालय में विहार सरकार मद की राशि उपलब्ध नहीं हो पाई है। सर्वशिक्षा मद से राशि आई हुई है तो वर्ग 1से 2 के बच्चे का बैंक में खाता नहीं होने की वजह से राशि विद्यालय शिक्षा समिति के खाते में पड़ी हुई है। बच्चों को नहीं दी जा रही है।


Spread the news