बिहार : जनता ने दिया भाजपा को देश की अर्थव्यवस्था तोड़ने की सजा-आम आदमी पार्टी

728x90
Spread the news

अनुप ना. सिंह
स्थानीय संपादक

विधानसभा चुनावों में भाजपा की हार पर बोले आप मीडिया प्रभारी

लोगों ने भाजपा को हराने के लिये न चाहते हुये भी काँग्रेस को वोट दिया

पटना/बिहार : आम आदमी पार्टी ने विधानसभा चुनावों में भाजपा की हार का मुख्य कारण देश की टूटती हुई अर्थव्यवस्था को बताया। पार्टी की बिहार इकाई के मीडिया प्रभारी धनंजय कुमार सिन्हा ने कहा कि भाजपा की केंद्र सरकार के नेतृत्व में देश की अर्थव्यवस्था की कमर टूट गई। नोटबंदी ने देश को मंदी की गोद में ढ़केल दिया। जीडीपी में औंधे मुँह गिरावट आई। सच्चाई छिपाने के लिये केंद्र सरकार ने फर्जी डाटा पेश किया। बड़े उद्योगपतियों के लोन माफ होने से बैंकों की स्थिति चरमरा गई। बेरोजगारी में बेतहाशा वृद्धि हुई। डॉलर के मुकाबले रुपया हर दिन शिकस्त खा रहा है। मँहगाई की मार से जनता में त्राहिमाम की स्थिति में है। गरीब दाने-दाने को मोहताज हो गया। जब पेट भूखा हो, तो जाति-धर्म जैसे तमाम भावनात्मक मुद्दों का असरहीन होना स्वाभाविक था।

धनंजय ने कहा कि जब तक पॉकेट में काम चलने लायक न्यूनतम पैसे भी उपलब्ध हों, तभी तक जाति-धर्म, हिन्दू-मुस्लिम, राममंदिर जैसे मुद्दे थोड़ा-बहुत असरदायी हो भी सकते थे। पर आखिर भूखे पेट कब तक लोग भजन करते रहते। खुद भाजपा की केंद्र एवं राज्य सरकारों ने आम जनता के पास भाजपा की सरकारों को उखाड़ फेंकने के सिवा कोई विकल्प नहीं छोड़ रखा था। उन्होंने कहा कि यह काँग्रेस की जीत नहीं, बल्कि भाजपा की हार है। लोगों ने भाजपा को हराने के लिये न चाहते हुये भी काँग्रेस को वोट दिया।

आगे उन्होंने यह भी कहा कि अगर केंद्र की मोदी सरकार ने रिजर्व बैंक के रिजर्व फंड की छूने का दुस्साहस किया तो आगामी लोकसभा चुनाव में जनता भाजपा को वापस दो सीटों पर समेट देगी।


Spread the news