नालंदा : भगवान महावीर की जन्मभूमि पर मनाया गया “गर्भ कल्याणक उत्सव”

मुर्शीद आलम
नालंदा ब्यूरो
बिहार

नालंदा/बिहार: जिले के कुण्डलपुर में वर्तमान शासन नायक जैन धर्म के 24वें तीर्थंकर भगवान महावीर स्वामी का गर्भ कल्याणक नालन्दा के कुण्डलपुर प्राचीन जैन मंदिर में धार्मिक अनुष्ठानों के बीच मनाया गया।

इस पावन उत्सव पर जैन धर्म के अनुयायियों तथा राजगृह व अन्य सिद्ध क्षेत्रों से आये अधिकारीगण ने कोरोना महामारी (कोविड 19) के लिए विश्वशांति के साथ ही साथ सुख-समृद्धि की मंगलमयी कामना करते हुए प्रार्थना तथा व्रत का पालन किया। प्राचीन मंदिर में स्थित भगवान महावीर गर्भगृह मंदिर में जाकर पूरे भक्तिभाव के साथ सभी लोगों ने अष्टद्रव्य, पूजन – अभिषेक कर वृहद शांतिधारा किया।  आज के दिन जैन धर्म के सैकड़ो धर्मावलंबियों का आगमन कुण्डलपुर तीर्थ में होता था परन्तु इस बार यह संभव नहीं हो सका क्‍योंकि कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए देश भर में लॉकडाउन का पालन किया जा रहा है लोग घरों में ही रहकर प्रभु भक्ति कर अपनी श्रद्धा व्यक्त कर रहे है।

 पूजन- अभिषेक तथा शांतिधारा के पुण्यार्जक श्रीमती इंदु वैन, श्री चंद जैन सपरिवार (गजपंथा निवासी), श्रीमान अजय कुमार जैन, श्रीमती विमलेश जी पुत्र – प्रशांत जैन, पराग जैन, सोहम, सौम्या (आरा निवासी) तथा श्रीमान रंजय जैन, संजय जैन, श्रीमती सुनीता जैन सपरिवार (दिल्ली निवासी)  ने फेसबुक लाइव के माध्यम से सभी कार्यक्रमों का धर्मलाभ लेकर पुण्योपार्जन किया।

इस मौके पर बिहार स्टेट दिगम्बर जैन तीर्थ क्षेत्र के मानद मंत्री श्री पराग जैन ने कहा कि – भगवान महावीर ने अहिंसा से सामाजिक क्रांति, अपरिग्रह से आर्थिक क्रांति और अनेकांत द्वारा वैचारिक क्रांति का सूत्रपात किया तथा दूसरे के दुःख दूर करने की धर्मवृत्ति को अहिंसा धर्म कहा है।

कुण्डलपुर प्राचीन जैन मंदिर के व्यवस्थापक श्री जगदीश जैन ने भगवान महावीर के गर्भ कल्याणक उत्सव पर जानकारी देते हुए कहा कि – भगवान महावीर का जन्म 599 इस्‍वी पूर्व बिहार राज्‍य के कुण्डलपुर ग्राम में इक्ष्वाकु वंश के राजा सिद्धार्थ और रानी त्रिशला के घर में हुआ था । जैन शास्त्रों के अनुसार भगवान महावीर का जन्म 23वें तीर्थंकर पार्श्वनाथ के मोक्ष प्राप्त करने के 188 वर्ष बाद हुआ था। भगवान महावीर ने पूरी दुनिया को अहिंसा परमो धर्म: तथा जिओ और जीने दो का अमर संदेश दिया।भगवान महावीर गर्भ कल्याणक के पावन बेला पर आधुनिक सुविधायुक्त कमरे निर्माण हेतु भूमि पूजन का कार्य भक्तिमय वातवरण में सम्पन्न।

कुण्डलपुर तीर्थ के ऐतिहासिक तथा पर्यटक स्थल के महत्व को देखते हुए तीर्थ यात्रियों के लिए आधुनिक सुविधायुक्त कमरों तथा विशाल प्रवेश द्वार का निर्माण कार्य किया जा रहा है। वर्द्धमान महावीर के गर्भ कल्याणक के पावन अवसर पर प्रबंध कमिटी द्वारा भूमि पूजन कर कमरा निर्माण की नींव रखकर विधिवत पूजन की गई।

 इस अवसर पर सुनील जैन, संजीत जैन, चंदन जैन, मनीष जैन, बैजनाथ जैन, पीयूष जैन, अंश जैन, मौसमी जैन, कोमल जैन, लाडो जैन मौजूद रहे।

Check Also

सुपौल : करंट लगने से छात्र की मौत

🔊 Listen to this छातापुर से रियाज खान की रिपोर्ट: छातापुर/सुपौल/बिहार : छातापुर प्रखंड अंतर्गत …