Breaking News

नालंदा : जन कल्याण संघ के द्वारा क्वॉरेंटाइन केंद्रों पर चलाया गया गुटका छोड़ो आंदोलन

मुर्शीद आलम
नालंदा ब्यूरो
बिहार

नालंदा/बिहार: जिला के अनुमंडल में समाजसेवी आशुतोष कुमार मानव एवं जन के सचिव रमाकान्त शर्मा की टीम गुरुवार को प्रखंड के अकबरपुर स्थित क्वारंटाइन सेंटर पहुँची जहाँ प्रवासी मज़दूरों को जागरुक किया गया। गुटखा छोड़ो आंदोलन के तहत नशा सेवन नहीं करने का संकल्प दिलाते हुए श्री मानव ने कहा कि जागरुकता ही क़ोरोना से बचने का एकमात्र उपाय है। नशाखोरी, खैनी गुटखा जैसे पदार्थों के सेवन से क़ोरोना का ख़तरा चार गुना बढ़ जाता है। जहाँ तहाँ थूकने से लोगों को हर हाल में बचना चाहिए। सेंटर में रहने वालों को भी आपस में दूरी बनाना है ताकि संक्रमण से बच सकें।

 इसी क्रम में जन से जुड़े आशीष कुमार ने क़ोरोना के ख़तरे से सावधान करते हुए पर्चा का भी वितरण किया। श्री शर्मा के मुताबिक़ साफ़ सफ़ाई पर निरंतर ध्यान देने से इस गम्भीर बीमारी के ख़तरे को टाला जा सकता है। शिक्षाविद ताड़कनाथ जायसवाल ने कहा कि योग एवं व्यायाम के माध्यम से अपनी इम्यूनिटी पावर को बढ़ाया जा सकता है। उन्होंने नियमित रूप से योगाभ्यास करने पर बल दिया तथा छोटी मोटी शिकायतोंको आपसमें बैठकर सुलझा लेने का भी अनुरोध किया।

 इस दौरान समाजसेवी श्रीमानव ने सम्बंधित पंचायत के मुखिया से व्यवस्था में और सुधार लाने का अनुरोध किया।

Check Also

मधेपुरा : हथियार के साथ गिरफ्तार अपराधियों को भेजा गया जेल

🔊 Listen to this  ⇒ 2 देशी कट्टा 6 जिन्दा कारतूस के साथ पकड़े गये …