बिहार : कोरोना संकट के बीच बिहार  में पहली शादी नवादा में

अनूप ना. सिंह
स्थानीय संपादक

पटना/नवादा/बिहार : दूल्हा-दुल्हन वरमाला की जगह मास्क लगाए हुए तथा सैनिटाइजर लगे हाथों से एक-दूसरे का हाथ थामे हुए एक यादगार शादी के गवाह बने।

मालूम हो कि नवादा जिले के हिसुआ के बाजार काली स्थान की रहने वाली श्वेता कुमारी की शादी शेखपुरा जिले के बरबीघा थाना के झंडा चौक के हनुमान गली निवासी गौरव कुमार से तय हुई थी। शादी की तिथि कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए लागू प्रथम चरण के लॉकडाउन की अंतिम तिथि यानी 14 अप्रैल के बाद 15 अप्रैल को रखी गई, लेकिन लॉकडाउन की अवधि बढ़ने से दोनों पक्ष परेशानी में आ गए। इस दौरान दोनों परिवारों ने लॉकडाउन का पालन करने और विवाह भी संपन्न कराने को राजी हुए। वर पक्ष ने इसके लिए शेखपुरा जिला प्रशासन को आवेदन देकर पास जारी करने का अनुरोध किया। इसके बाद अनुमंडल कायार्लय से गौरव को पास मिल गया।

पास में वाहन और स्वयं तथा सहयोगी को सैनिटाइज करने तथा आने-जाने के दौरान कहीं नहीं रूकने की शर्त भी लगाई गई। कार से दूल्हे को लेकर दो लोगों के साथ बारात शेखपुरा से नवादा आई जहां पहले से तैयार बैठी दुल्हन के घर पर पांच लोगों एवं एक पंडित की मौजूदगी में मास्क लगाकर शादी की रस्में हुईं। इस दौरान दूल्हा-दुल्हन एक दूसरे को सैनिटाइजर से संक्रमण मुक्त करते रहे। शादी के उपरांत वधू की विदाई भी हो गई।

Check Also

नई शिक्षा नीति : संस्थान में सरकार का हस्तक्षेप ज्यादा होगा और डिग्री का महत्व कम-राठौर

🔊 Listen to this मधेपुरा/बिहार : मानव संसाधन विकास विभाग द्वारा लाई गई बहुप्रतीक्षित नई …