किशनगंज : शिक्षक बहाली को लेकर मदरसा ईस्लाहुल मुस्लेमीन में विवाद

728x90
Spread the news

शशिकान्त झा
वरीय उप संपादक

किशनगंज/बिहार : जिले के बहादुरगंज ब्लाक के ईल्मी एदारा इन दिनों बहाली को लेकर कुस्तीनुमा अखाड़ों में तब्दिल होता जा रहा है । जहां इल्म बांटने के बजाय जोर आजमाईसें की जा रही है ।
वाकया बहादुरगंज के भोरादह पंचायत का बताया गया है । जहां पंचायत के मुखिया तौकीर आलम ने मदरसा ईस्लाहुल मुस्लेमीन, नयी हाट भोरादह मदरसा नं. 477 में गैरकानूनी तरिके से चार लोगों को बहाल करने की बातें कर गहरा एतराज जताया है । वहीं साबिक मुखिया उवेदुर्ररहमान ने मदरसा के सेक्रेट्री से हुई बातों का खुलासा करते कहा है कि बहाली की सारी कार्यवाईयों को कानून के दायरों में कराया जा रहा है ।

बरोज बुधबार मरकुमा तारीख 14 .11 .18 को मदरसा इस्लाहुल मुस्लेमीन के केंपस में लोगों का हुजूम था । मदरसा बोर्ड के नुमाइंदे (एक्सपर्ट्स ) चार की तायदात में मदरसे में लोगों से घिरे थे । इस बीच मदरसा सेक्रेट्री मौलवी जकरिया से “द रिपब्लिकन टाइम्स” की हुई मुलाकात में, जहां उन्होने वेकेंसी के लिए निकाले गये इस्तीहार, केंडिडेटों के जानिव से भेजे गये दरख्वास्तों के साथ बहाली के लिए सारे कानूनन दस्तावेजों का हवाला एक्सपर्ट मो.मनव्वर हुसैन, मौलवी मुजीवुल हक, हाफिज नौशाद और मास्टर गुलाम हैदर के सामने रखा । जिसकी ताईद सभी एक्सपर्ट्सों ने की । बोर्ड के एक्सपर्ट हाफिज नौशाद और मास्टर गुलाम हैदर ने बतलाया कि हम बोर्ड के हुक्म पर आये हैं । हमलोग इन्टरव्यू लेकर इसका मुकम्मल रिपोर्ट मदरसा बोर्ड के सुपूर्द करेंगे । जिस पर मदरसा इस्लाहुल मुस्लेमीन भोरादह, जकरिया चारो केंडिडेटों का कन्फिडेंसीयल रिपोर्ट करेंगे । जहां वाजिब फैसला लेकर मदरसा बोर्ड सही और जिम्मेदार लोगों को चुन सकेगी ।

फिलवक्त बहादुरगंज पुलिस यहां पहुंच कर बोर्ड के नुमाईनदगानों को एस्कोर्ट कर महफूज जगह पर सरकारी काम को पूरा करने के लिए पहुंचाया , जहां बोर्ड के नुमाईन्दगानों ने आगे की कार्रवाई की ।
गौरतलब है कि मदरसा की मेनेजिंग कमेटी पढ़े लिखे बेरोजगारों के लिए कानूनन सारी कार्यवाई की है पर कई लोग इस काम में अड़ंगा लगाने की कसमें खा रखी है जिससे तालिमी एदारे का माहोल सियासती बनती जा रही है । ऐसे में सूबा ए बिहार के मुखिया नीतिश कुमार के “आधी रोटी खाऐंगे ,फिर भी स्कूल जाऐंगे ” के नारों का ख्वाब नकारा साबित हो रहे हैं ।


Spread the news