पटना : वर्ल्ड डाईबीटीज डे के मौके पर लाएंस क्लब पाटलीपुत्र द्वारा निःशुल्क जांच शिविर का आयोजन

728x90
Spread the news

अनुप ना. सिंह
स्थानीय संपादक

पटना/बिहार : बुधवार को  वर्ल्ड डाईबीटीज डे के अवसर पर मास अवेरनेश ड्राव के तहत चर्चित चिकित्सक लाएंस डा राणा एस पी सिंह (लाएंस 322E के डिस्ट्रिक्ट चेयर पर्शन -हेल्थ एंड हैजीन )ने लाएंस क्लब पाटलीपुत्र आस्था के बैनर तले फ्री डाईबिटीज और ब्लड प्रेसर की जाँच तथा  दवा का वितरण किया गया। इस अवसर पर  मिजिल्स व रूबेला का टीका  9 माह से 15वर्ष तक के बच्चों को दिलाने  का लोगो को संकल्प कराया गया । डा. राणा ने कहा कि डायबिटीज का असर किडनी पर कुछ साल बाद ही शुरू हो जाता है। इसे रोकने के लिए ब्‍लड शुगर और ब्‍लड प्रेशन दोनों को नॉमर्ल रखना चाहिए। उन्होंने कहा कि ब्‍लड शुगर के स्‍तर को नियंत्रण में रखकर आंखों की मोतियाबिंद जैसी बीमारियों से बचा जा सकता है। डायबिटीज के मरीजों में अक्सर 65 साल की उम्र में पहुंचते-पहुंचते दिल के दौरे की समस्‍या शुरू हो जाती है। इससे बचने के लिए ग्‍लूकोज स्‍तर को नियंत्रण में रखने के साथ-साथ ब्‍लड प्रेशर, कोलेस्‍ट्रॉल और तनाव पर नियंत्रण रखना भी जरूरी है।

उन्होंने बताया कि डायबिटीज से हार्ट अटैक, स्‍ट्रोक्‍स, लकवा, इन्‍फेक्‍शन और किडनी फेल होने का भी खतरा बना रहता है। आप इसके खतरों से बचने के लिए आहार में सावधानी रखने के साथ ही नियमित रूप से व्‍यायाम करें।