केंद्र और बिहार सरकार के खिलाफ महागठबंधन का प्रतिरोध मार्च

728x90
Spread the news

कटिहार/बिहार : बेरोजगारी, महंगाई, भ्रष्टाचार, बढ़ती रिश्वतखोरी के खिलाफ़ राज्यव्यापी आंदोलन के तहत राजद नेता तेजस्वी यादव के अहवाह्न पर कटिहार में भी महागठबंधन ने विशाल प्रतिरोध मार्च निकाला गया। स्थानीय टाउन हॉल परिसर से निकाले गए प्रतिरोध मार्च में राजद के अलावे कांग्रेस, माले, सीपीआई और सीपीएम के हजारों कार्यकर्ता महंगाई, बेरोजगारी, सरकारी विभागों में रिश्वतखोरी, विकास जुड़े विभागों में कमिश्खोरी को लेकर केंद्र व राज्य सरकार के खिलाफ़ जमकर नारा लगा रहे थें। प्रतिरोध मार्च में मुख्य रूप से राज्य सभा सांसद डॉ अहमद अशफ़ाक करीम शामिल थें। वहीं दूसरी ओर पूर्व विधायक नीरज कुमार, पूर्व राज्य मंत्री डॉ राम प्रकाश महतो, राजद प्रदेश महासचिव समरेंद्र कुणाल, जिला परिषद उपाध्यक्ष इशरत प्रवीण, माले नेत्री जूही महबूब, कांग्रेस जिला अध्यक्ष प्रेम राय, तौकीर आलम, सीपीएम के जिला सचिव बिनोद साह, सीपीआई जिला सचिव जय प्रकाश आदि नेताओं ने सभा को संबोधित किया। इस अवसर पर नेताओं ने स्थानीय समस्याओं को भी उठाया।

आंदोलन में मुख्यरूप से उपस्थित राज्य सभा सांसद डॉ अहमद अशफ़ाक करीम ने कहा कि महंगाई बेरोजगारी देश को कमज़ोर कर दी है, देश में लगातार बेरोजगारी बढ़ रहा है, वहीं दूसरी ओर महंगाई बढ़ रही है, लोगों पर दो तरफा मार पड़ रहा है। डॉ करीम ने कहा कि कटाव एवं कटाव से विस्थापित परिवारों का पुनर्वास नहीं हो रहा है, सरकार आम आदमी की भावना एवं परेशानियों को नोटिस नहीं ले रही है। डॉ करीम ने कहा कि देश में महंगाई बेरोजगारी को कम नहीं किया गया तो श्रीलंका की तरह लोग सड़कों पर आ जायेंगे।

कटिहार से उमर मुर्शीद की रिपोर्ट


Spread the news

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें