बीपी मंडल की जयंती पर राजकीय समारोह का आयोजन, शामिल नहीं हुए एक भी मंत्री

728x90
Spread the news

मधेपुरा/बिहार : सामाजिक न्याय के पुरोधा, बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री एवं मंडल कमीशन के अध्यक्ष बीपी मंडल की 103 वी जयंती की राजकीय समारोह जिले में कोरोना महामारी को देखते हुए सोशल डिस्टेंश के साथ मनाया गया. बुधवार को सबसे पहले जिला मुख्यालय स्थित बस स्टैंड के बीपी मंडल चौक पर स्थित बीपी मंडल के प्रतिमा पर जिला पदाधिकारी श्याम बिहारी मीणा एवं पुलिस अधीक्षक योगेंद्र कुमार समेत अन्य अधिकारियों, जनप्रतिनिधियों, कई पार्टी के नेताओं एवं समाजसेवियों के द्वारा माल्यार्पण एवं पुष्पांजलि अर्पित किया गया. उसके पश्चात बीपी मंडल के पैतृक गांव सदर प्रखंड के मुरहो में जाकर बीपी मंडल के राजकीय जयंती समारोह में जिला पदाधिकारी ने भाग लिया.

डीएम समेत सभी अधिकारियों ने किया पुष्प अर्पित : जिला प्रशासन के द्वारा आयोजित कार्यक्रम में सर्वप्रथम बीपी मंडल के तैलीय चित्र पर जिला पदाधिकारी श्याम बिहारी मीणा, पुलिस अधीक्षक योगेंद्र कुमार, पूर्व विधायक मनिंद्र कुमार मंडल उर्फ ओम बाबू, अपर समाहर्ता उपेंद्र कुमार, उप विकास आयुक्त विनोद प्रसाद सिंह, अपर समाहर्ता सह जिला लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी शिव कुमार शैव, सदर अनुमंडल पदाधिकारी नीरज कुमार, सदर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अजय नारायण यादव, जिला सूचना एवं जनसंपर्क पदाधिकारी मनीष कुमार, जिला परिषद अध्यक्षा मंजू देवी, जिला परिषद उपाध्यक्ष रघुनंदन दास सहित जिले के सभी वरीय अधिकारियों ने पुष्प अर्पित किया.

सर्वधर्म प्रार्थना का किया गया आयोजन : पुष्प अर्पित के बाद कार्यक्रम में सर्वधर्म प्राथना का आयोजन किया गया. जिसमें आचार्य डा तेज नारायण यादव, सलाउद्दीन, क्रिश्चियन मिशन के रेवरेन रघु मुर्मू ने सर्व धर्म प्रार्थना किया. वहीं रासबिहारी उच्च माध्यमिक विद्यालय के संगीत शिक्षक गायक गांधी कुमार मिस्त्री एवं संगीत शिक्षिका शशिप्रभा जायसवाल के द्वारा सरस्वती वंदना, गुरुमहिमा, रघुपति राघव राजाराम, जय बोलो, वैष्णव जन तो तेणे कहिए, सर्व धर्म प्रार्थना एवं शांति पाठ किया गया. इनका साथ तबला पर सुबोध कुमार एवं ब्रजेश कुमार दे रहे थे. कार्यक्रम के दौरान जिला प्रशासन द्वारा समाजसेवी साहित्यकार डा भूपेंद्र नारायण यादव मधेपुरी द्वारा लिखित बीपी मंडल का संक्षिप्त जीवन वृत्त वितरण किया गया.

कोविड 19 के नियमों का हुआ पालन : कोविड-19 संक्रमण को देखते हुए सामजिक दूरी का पालन करते हुए बीपी मंडल के राजकीय जयंती समारोह को सम्पन्न किया गया. समारोह स्थल पर सेनेटाइज एवं मास्क की व्यवस्था की गई थी. समारोह स्थल में प्रवेश करने वाले लोगों का स्क्रीनिंग किया जा रहा था. इस दौरान समाजसेवी साहित्यकार डा भूपेंद्र नारायण यादव मधेपुरी, डा अरुण कुमार मंडल, जदयू जिलाध्यक्ष मंजू देवी उर्फ गुड्डी देवी, जदयू शिक्षा प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष प्रो अभिषेक कुशवाहा, सामाजिक कार्यकर्ता ध्यानी यादव, शौकत अली, भाकपा के राष्ट्रीय परिषद सदस्य प्रमोद प्रभाकर सहित कई लोग उपस्थित थे. कार्यक्रम का मंच संचालन भारत स्काउट एवं गाइड के जिला प्रशिक्षण आयुक्त जयकृष्ण यादव ने किया.

जयंती को कमजोर किया जाना, सरकार की साजिश : मंडल आयोग के अध्यक्ष, बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री एवं सामाजिक न्याय के पुरोधा बीपी मंडल साहब की जयंती समारोह के प्रति सरकार की उदासीनता पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए महागठबंधन के जिला संयोजक एवं भाकपा के राष्ट्रीय परिषद सदस्य प्रमोद प्रभाकर ने कहा कि बिहार सरकार द्वारा लगातार मुरहो में आयोजित बीपी मंडल जयंती समारोह की उपेक्षा की जा रही है. पिछले वर्ष और इस वर्ष भी किसी मंत्री का जयंती समारोह में नहीं आना घोर आपत्ति जनक है. उन्होंने इस रवैया की निंदा करते हुए कहा कि कोरोना के बहाने राजकीय समारोह के रूप में मनाने वाली मंडल जयंती समारोह को कमजोर किया जाना, सरकार की सोची समझी साजिश है. उन्होंने कहा कि समारोह की तैयारी के नाम पर जिला प्रशासन के द्वारा खाना पूरी की जाती है.

भाकपा नेता प्रमोद प्रभाकर ने कहा कि हम अपने पुरोधा की उपेक्षा नहीं सहेंगे, इसमें आगे से सुधार नहीं हुआ तो मधेपुरा के सामाजिक न्याय के पक्षधर जनता एवं संपूर्ण विपक्ष एकजुट होकर संघर्ष के लिए मजबूर होंगे.

अमित कुमार अंशु
उप संपादक

Spread the news

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें